Hindi News »Jharkhand »Jhariya» 24 सूत्री मांगों को लेकर बिजली कर्मी 10 को करेंगे धरना प्रदर्शन

24 सूत्री मांगों को लेकर बिजली कर्मी 10 को करेंगे धरना प्रदर्शन

ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड की स्थिति चरमरा गयी है। प्रबंधन द्वारा बेवजह जल्द बाजी में सामूहिक स्थानांतरण किया गया।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:50 PM IST

ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड की स्थिति चरमरा गयी है। प्रबंधन द्वारा बेवजह जल्द बाजी में सामूहिक स्थानांतरण किया गया। जिससे पूरे राज्य की कार्य संस्कृति ही बदल गई है। उक्त बातें बुधवार को झारखंड राज्य बिजली कामगार यूनियन के प्रदेश महामंत्री रामकृष्णा सिंह ने पत्रकारों से कही। कहा कि जो कर्मी कार्यालय में चौदह साल से कार्यरत थे, उन्हें भी हटाकर फील्ड में भेज दिया गया है। इससे कार्यालय का काम ठप हो गया है। पदाधिकारी भयभीत है। मीटर रीडिंग नहीं हो रहा है। जिसके कारण बिलिंग सही नहीं हो पा रहा है। इससे करोड़ों की राजस्व की हानि हो रही है। इसको देखने वाला कोई नहीं है। जानकार कर्मी नहीं रहने के कारण गलत विपत्र का सुधार नहीं हो पा रहा है। इससे निजात दिलाने के लिए मुख्यमंत्री को प्रीपेड मीटर लगाने हेतु पत्र दिया गया था। इससे अरबों की बचत होगी। निगम को बचाने के लिए यूनियन को खड़ा होना पड़ेगा। अन्यथा पेंशन, वेतन मिलना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएमडी को 24 सूत्री मांग पत्र दिया गया है। लेकिन मांगों की पूर्ति नहीं की गई। कहा कि दैनिक वेतन भोगी कर्मियों को चार माह का बकाया वेतन होली से पहले भुगतान करने की मांग की गई है। मांगों को लेकर 10 फरवरी को पूरे राज्य के बिजली मजदूर धरना प्रदर्शन कर मांग दिवस मनाएंगे। इसके बाद भी अगर मांगों पर पहल नहीं की गयी तो चरणबद्ध आंदोलन शुरू किया जायेगा। मौके पर श्रवण कुमार, मनोज, गौतम कुमार, बसंती देवी आदि मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhariya

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×