Hindi News »Jharkhand »Kamasmar» खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए सोच में बदलाव लाएं

खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए सोच में बदलाव लाएं

प्रखंड के बहुद्देशीय भवन के सभागार में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण निगरानी दल की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 28, 2018, 03:00 AM IST

प्रखंड के बहुद्देशीय भवन के सभागार में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण निगरानी दल की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया। जिसमें घनश्याम साह यूनिसेफ के ने दूसरे प्रखंड के अनुभव काे खुले में शौच मुक्त प्रखंड कैसे हो, इस पर चर्चा की।

कार्यशाला में मुख्य रूप से कसमार बीडीओ किकू महतो उपस्थित हुए। उन्होंने कहा कि प्रखंड को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए लोगों को अपनी सोच को बदलनी होगी। सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने के लिए सभी मुखिया, पंसस, जलसहिया, स्वयंसेवक स्वच्छताग्राही व सभी-सभी को अपने कार्य को ईमानदारी पूर्वक करें। कार्यक्रम में उपस्थित प्रखंड बीससूत्री अध्यक्ष यदुनंदन जायसवाल व जिप सदस्य ने कहा कि लोग शौचालय का उपयोग गोइंठा रखने के बजाय शौच के लिए उपयोग करें। सरकार की योजना को दूध देने वाली गाय की तरह बना दिया। जब तक दूध देती है तबतक सेवा नहीं तो सेवा बंद।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kamasmar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×