• Home
  • Jharkhand News
  • Katrash
  • कोयला उठाव को ले रणक्षेत्र में तब्दील होने से बचा आकाशकिनारी कांटा घर
--Advertisement--

कोयला उठाव को ले रणक्षेत्र में तब्दील होने से बचा आकाशकिनारी कांटा घर

आजसू नेता सह जिप सदस्य सुभाष राय के भाई जगदीश राय के डीओ पर कोयला उठाव को लेकर सोमवार को आकाशकिनारी कांटा घर...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:15 AM IST
आजसू नेता सह जिप सदस्य सुभाष राय के भाई जगदीश राय के डीओ पर कोयला उठाव को लेकर सोमवार को आकाशकिनारी कांटा घर रणक्षेत्र में तब्दील होने से बच गया। एक पक्ष की ओर से विधायक ढुल्लू महतो के समर्थक सुबह से ही कांटा घर के समीप हरवे-हथियार से लैस होकर खड़े थे। वहीं दूसरे पक्ष के जिप सदस्य के समर्थक श्यामडीह स्थित विवाह मंडप के समीप एकत्रित होकर रणनीति बना रहे थे। हालांकि कांटा घर का लिंक खराब रहने के कारण कोयला लोडिंग के लिए ट्रक कोलियरी में प्रवेश नहीं हुआ। इससे बड़ी घटना टल गई। दोपहर दो बजे तक कांटा घर के समीप गहमागहमी की स्थिति बनी रही। इस दौरान एक पक्ष की ओर से दहशत फैलाने के उद्देश्य से तीन चक्र हवाई फायरिंग की खबर है। कांटा घर के समीप भारी संख्या में पुलिस व सीआईएसफ के जवान मौजूद थे। गहमागहमी की स्थिति के कारण कांटा कर्मी डेढ़ घंटा देर से पहुंचे और कांटा घर को खोला। इस दौरान सीआईएसएफ के कनीय अधिकारी ने कांटा खोलने से रोक दिया। बाद में कतरास थानेदार सुषमा कुमारी व बल के इंस्पेक्टर एनएन यादव मौके पर पहुंचे। इसके बाद कांटा खोला गया। सहायक समादेष्टा एमके पाठक ने भी मौके पर पहुंचकर स्थिति की जानकारी ली। बाद में आकाशकिनारी से कुछ दूरी पर केबल कटने की बात सामने आई। जिससे लिंक फेल हो गया था। कांटा खराब होने के बाद जिप सदस्य सुभाष राय ने प्रेस वार्ता कर प्रबंधन को चेतावनी दी। उन्होंने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि बाघमारा में रोजगार करने वालों को विधायक ढुल्लू महतो बेरोजगार करना चाहते हैं। अपने भाड़े का गुर्गों को भेजकर जनता की आवाज को दबाना चाहते हैं। इसका जीता जागता उदाहरण आकाशकिनारी है। मेरे भाई ने रोजगार के लिए आकाशकिनारी में एक सौ टन का डीओ भरा है, लेकिन विधायक ने एक साजिश के तहत लिंक फेल करवाकर कोयला उठाव को रोकने का काम किया है। विधायक गुंडा तत्वों को सामने रखकर अपना वर्चस्व कायम करते हैं। जबकि पुलिस प्रशासन मौन रहता है। मौके पर जिप संदस्य संतोष महतो, किरण महतो, भाजपा नेता सुदाम गिरि, मुकेश महतो, मो इकरामुल, सुरेश महतो, विनय पासवान, वीरेंद्र सिंह, विनोद नापित, एहसान अंसारी आदि उपस्थित थे।

पत्रकारों को घटना की जानकारी देते जिप सदस्य सुभाष राय।

आकाशकिनारी कांटा घर के समीप हरवे हथियार से लैस एक पक्ष के समर्थक।

भास्कर न्यूज|कतरास

आजसू नेता सह जिप सदस्य सुभाष राय के भाई जगदीश राय के डीओ पर कोयला उठाव को लेकर सोमवार को आकाशकिनारी कांटा घर रणक्षेत्र में तब्दील होने से बच गया। एक पक्ष की ओर से विधायक ढुल्लू महतो के समर्थक सुबह से ही कांटा घर के समीप हरवे-हथियार से लैस होकर खड़े थे। वहीं दूसरे पक्ष के जिप सदस्य के समर्थक श्यामडीह स्थित विवाह मंडप के समीप एकत्रित होकर रणनीति बना रहे थे। हालांकि कांटा घर का लिंक खराब रहने के कारण कोयला लोडिंग के लिए ट्रक कोलियरी में प्रवेश नहीं हुआ। इससे बड़ी घटना टल गई। दोपहर दो बजे तक कांटा घर के समीप गहमागहमी की स्थिति बनी रही। इस दौरान एक पक्ष की ओर से दहशत फैलाने के उद्देश्य से तीन चक्र हवाई फायरिंग की खबर है। कांटा घर के समीप भारी संख्या में पुलिस व सीआईएसफ के जवान मौजूद थे। गहमागहमी की स्थिति के कारण कांटा कर्मी डेढ़ घंटा देर से पहुंचे और कांटा घर को खोला। इस दौरान सीआईएसएफ के कनीय अधिकारी ने कांटा खोलने से रोक दिया। बाद में कतरास थानेदार सुषमा कुमारी व बल के इंस्पेक्टर एनएन यादव मौके पर पहुंचे। इसके बाद कांटा खोला गया। सहायक समादेष्टा एमके पाठक ने भी मौके पर पहुंचकर स्थिति की जानकारी ली। बाद में आकाशकिनारी से कुछ दूरी पर केबल कटने की बात सामने आई। जिससे लिंक फेल हो गया था। कांटा खराब होने के बाद जिप सदस्य सुभाष राय ने प्रेस वार्ता कर प्रबंधन को चेतावनी दी। उन्होंने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि बाघमारा में रोजगार करने वालों को विधायक ढुल्लू महतो बेरोजगार करना चाहते हैं। अपने भाड़े का गुर्गों को भेजकर जनता की आवाज को दबाना चाहते हैं। इसका जीता जागता उदाहरण आकाशकिनारी है। मेरे भाई ने रोजगार के लिए आकाशकिनारी में एक सौ टन का डीओ भरा है, लेकिन विधायक ने एक साजिश के तहत लिंक फेल करवाकर कोयला उठाव को रोकने का काम किया है। विधायक गुंडा तत्वों को सामने रखकर अपना वर्चस्व कायम करते हैं। जबकि पुलिस प्रशासन मौन रहता है। मौके पर जिप संदस्य संतोष महतो, किरण महतो, भाजपा नेता सुदाम गिरि, मुकेश महतो, मो इकरामुल, सुरेश महतो, विनय पासवान, वीरेंद्र सिंह, विनोद नापित, एहसान अंसारी आदि उपस्थित थे।

बाघमारा में नहीं चलेगा रावण राज: संतोष

इधर सुभाष राय को महुदा के जिप सदस्य सह कांग्रेसी नेता संतोष महतो का समर्थन मिला। सूचना पाकर वे समर्थकों के साथ श्यामडीह पहुंचे और सुभाष को मदद का आश्वासन दिया। इस दाैरान संतोष ने कहा कि बाघमारा में रावण राज का खात्मा करना ही उनका मकसद है। एक तरफ बेरोजगारों को रोजगार देने का नाटक करने वाले विधायक रोजगार छिनने का काम कर रहे हैं। जिसका हर स्तर पर विरोध किया जाएगा।

आकाशकिनारी में है वर्चस्व की लड़ाई

जिप सदस्य के भाई ने आकाशकिनारी में एक सौ टन का डीओ लगाया था। इसका एलाटमेंट सोमवार को था। एलाटमेंट के बाद से ही दोनों पक्ष के लोगों के बीच टकराव की संभावना बन गई थी। विधायक ढुल्लू के समर्थक किसी भी कीमत पर ट्रक को कोलियरी में प्रवेश नहीं होने देने की तैयारी में थे। जबकि दूसरा पक्ष हर हाल में ट्रक की लोडिंग कराना चाहता था। उधर कांटा ठीक होने के इंतजार में आजसू नेता सुभाष राय के समर्थक श्यामडीह में जमे रहे।