--Advertisement--

30 साल बाद बन रहा है एेसा शुभ योग

Dainik Bhaskar

Mar 18, 2018, 02:45 AM IST

Kodarma News - 30 साल बाद बन रहा है एेसा शुभ योग भास्कर न्यूज | कोडरमा इस बार नवरात्रि में 30 साल बाद ऐसा योग बना है, जिसमें मंगल...

30 साल बाद बन रहा है एेसा शुभ योग
30 साल बाद बन रहा है एेसा शुभ योग

भास्कर न्यूज | कोडरमा

इस बार नवरात्रि में 30 साल बाद ऐसा योग बना है, जिसमें मंगल एवं शनि धनु राशि में हंै। मंगल एवं शनि, धनु राशि के स्वामी गुरु के मित्र हंै। मंगल भूमि का कारक ग्रह है, एवं शनि किसी भी संपत्ति को स्थायी रखकर लाभ प्रदान करने वाला होता है। इसलिए इस चैत्र नवरात्रि में घर और संपत्ति खरीदना फायदेमंद रहेगा।

ज्योतिषाचार्य वरुण पांडेय के अनुसार इन दोनों ग्रहों के गुरु के स्वामित्व में होने से यह अपनी परस्पर शत्रुता को भी नजरअंदाज करते हैं। इससे खरीदी गई संपत्ति में वृद्धि होती है। यह योग सभी राशियों के लिए फायदा देने वाला है। नवरात्रि में कोई भी वस्तु, मकान, दुकान, प्लाट और फ्लैट की खरीदारी सुख देने वाली होती है। इस पर्व के तो सभी दिन शुभ हंै, पर 18, 20 और 21 मार्च को सर्वार्थ सिद्धि योग भी है। 20 मार्च को अमृत सिद्धि योग भी है। इसके अलावा दिन भी मंगलवार है। मंगल भूमि का कारक ग्रह होने से यह दिन सर्वथा अनुकूल है। नवरात्रि की प्रतिपदा को ब्रह्मा ने सृष्टि की रचना की शुरुआत की थी। अबूझ मुहूर्त होेने से पर्व के सभी दिन कोई शुभ कार्य (विवाह को छोड़कर) कर सकते हैं। इसी नवरात्रि में भगवान विष्णु के मत्स्यावतार एवं श्रीराम का जन्म हुआ था। इसलिए भी इसमें ली गई संपत्ति शुभ फल देने वाली होती है।

इस बार नवरात्रि की शुरुआत मीन लग्न से होगी। नक्षत्र उत्तरभाद्रपद होगा, जिसके स्वामी शनि एवं लग्न का स्वामी गुरु होगा। पर्व का समापन भी मीन लग्न से ही होगा। नक्षत्र रेवती रहेगा, जिसके स्वामी होंगे बुध एवं राशि स्वामी पुन: गुरु होंगे। इसलिए इस दौरान की गई खरीदी स्थायित्व एवं पूर्णकालिक लाभ प्रदान करने वाला होगी। वृषभ, सिंह, वृश्चिक, कुंभ स्थिर लग्न होते हैं। इनमें खरीदा गया समान स्थिर रहता है। नवरात्रि में यह समय हर दिन सुबह 9 से 11, वृषभ स्थिर लग्न एवं दोपहर 3.30 से शाम 5.15 तक रहेंगे।

X
30 साल बाद बन रहा है एेसा शुभ योग
Astrology

Recommended

Click to listen..