Hindi News »Jharkhand »Kodarma» नवरात्र आरंभ, 250 सालों से हो रही है राजगढ़ में पूजा

नवरात्र आरंभ, 250 सालों से हो रही है राजगढ़ में पूजा

भास्कर न्यूज | झुमरीतिलैया/ कोडरमा या देवी सर्वभूतेषु शक्ति रूपेण संस्थिता के मंत्रोच्चार व कलश स्थापना के साथ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 19, 2018, 02:50 AM IST

भास्कर न्यूज | झुमरीतिलैया/ कोडरमा

या देवी सर्वभूतेषु शक्ति रूपेण संस्थिता के मंत्रोच्चार व कलश स्थापना के साथ ही वासंती नवरात्र का उत्सव आरंभ हो गया है। शहर में करीब आधे दर्जन स्थानों पर मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित की जा रही है।

नवरात्र के पहले दिन मां दुर्गा के प्रथम स्वरूप शैलपुत्री की पूजा हुई। इसके अलावा शहर के गायत्री मंदिर, चमत्कारीबाबा मंदिर, दुर्गा काम्पलेक्स सहित अन्य मंदिरों में भी कलश स्थापना के साथ नवरात्र शुरु हो गया। शीतला माता मंदिर ,तिलैया बस्ती, तारा टांड़, मड़ुआटांड़ आदि इलाकों में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा के पट्ट सप्तमी को खोले जाएंगे। वहीं कोडरमा राजागढ़ में भी पूरे भक्ति भाव के साथ कलश स्थापित की गई। यहां करीब 250 वर्षों से मां की पूजा अर्चना की जा रही है। आज भी राजा के वंशज कृष्णा सिंह इस परंपरा का निर्वाहन करते आ रहे है। इसके अलावा मरकच्चो , जयनगर, डोमचांच व चंदवारा प्रखंडों के ग्रामीण क्षेत्रों में भी रविवार को कलश स्थापना के साथ बासंती नवरात्रा शुरु हो गया।

गायत्री शक्तिपीठ झुमरी तिलैया में चैत्र नवरात्रा अनुष्ठान कलश स्थापना के साथ रविवार को आरंभ हुआ। मौके पर शक्तिपीठ में कलश स्थापना के साथ सौ लोगों ने 24 हजार गायत्री महामंत्र जप का संकल्प लिया। मौके पर परिव्राजक नकुलदेव ने बासंती नवरात्रा के महत्व बताते हुए कहा कि सृष्टि की उत्पत्ति ब्रह्मा जी ने आज ही के दिन किया था। श्रीराम का जन्म आज ही हुआ था। उन्होंने कहा कि गायत्री महामंत्र जप का अनुष्ठान करने से कई गुणा महत्व बढ़ जाता है। प्रत्येक दिन 9 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ व शाम को प्रज्ञा पुराण कथा वाचन कार्यक्रम का आयोजन होगा। जिसमें आज की घोर समस्या का समाधान, जीवन जीने की कला बताई जाएगी। वहीं 24 मार्च की शाम 4 बजे प्रज्ञा पुराण का पाठ व 5 बजे से महाआरती कार्यक्रम आयोजित की जाएगी। जबकि 26 मार्च को महायज्ञ व पूर्णाहुति का कार्यक्रम प्रात: 7.30 बजे से आरंभ होगी। मौके पर शक्तिपीठ के मुख्य ट्रस्टी अर्जुन राणा, केदार विश्वकर्मा, रामानुज चौधरी, एसएस प्रसाद, एके मोदी, मृत्युंजय भास्कर, ईश्वर साव, महेंद्र मोदी, महावीर पंडित सहित अन्य लोग मौजूद थे।

धर्म-कर्म

कलश स्थापना के साथ ही श्रद्धालुओं में बढ़ा उत्साह, 24 हजार गायत्री महामंत्र जाप का लोगों ने लिया संकल्प

गायत्री शक्तिपीठ में गायत्री महामंत्र जप में शामिल लोग।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kodarma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×