Hindi News »Jharkhand »Kodarma» दलित शोषण मुक्ति मंच ने निकाला विरोध मार्च

दलित शोषण मुक्ति मंच ने निकाला विरोध मार्च

दलित शोषण मुक्ति मंच (डीएसएमएम) के बैनर तले एससी, एसटी अत्याचार निवारण कानून मे संशोधन के खिलाफ दलित संगठनों का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 03, 2018, 02:50 AM IST

दलित शोषण मुक्ति मंच (डीएसएमएम) के बैनर तले एससी, एसटी अत्याचार निवारण कानून मे संशोधन के खिलाफ दलित संगठनों का भारत बंद का कोडरमा बाजार में बंद असरदार रहा। बंद को लेकर सुबह से ही बंद समर्थक मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए सड़कों पर उतरे और दुकान को बंद कराया। बंद के समर्थन में डीएसएमएम के राज्य कमिटी सदस्य संजय पासवान, अमित अनुराग, वार्ड पार्षद रिया राज, सिकन्दर दास, पंसस संजय दास, महेन्द्र तुरी, कृष्णा दास, मनोज बौध, विजय पासवान के नेतृत्व मे दुधीमाटी कोडरमा से विरोध मार्च निकाला गया, जो रांची पटना मुख्य मार्ग होते हुए समाहरणालय पहुंचकर सभा में तब्दील हो गई।

सभा को माकपा नेता रमेश प्रजापति, माले नेता श्यामदेव यादव, कांग्रेस नेता मनोज सहाय पिंकू के अलावा घनश्याम दास, एम चन्द्रा, अशोक दास, मनिन्द्र राम, मनोज दास, मीरा देवी, कारू दास, भिखारी तुरी, सुनीता देवी आदि ने सं‍बोधित किया। सभा की अध्यक्षता करते हुए संजय पासवान ने की। कार्यक्रम का संचालन नारायण दास ने किया। मौके पर हजारों की संख्या मे दलित समाज के शामिल थे। सभा के बाद विरोध मार्च में शामिल सैकड़ों लोगों ने कोडरमा थाना का घेराव करते हुए आंदोलन में गिरफ्तार नौ साथियों को छोड़ने के लिए पुलिस प्रशासन को मजबूर कर दिया और गिरफ्तार लोगों को छोड़ने के बाद प्रदर्शन समाप्त किया गया। बाद में संजय के नेतृत्व में नौ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल डीडीसी को राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपकर दलित उत्पीड़न निवारण कानून मे संशोधन वापस लेने की मांग की।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kodarma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×