कोडरमा

--Advertisement--

झुमरीतिलैया 1952 में नोटिफाइड एरिया बना

भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया कोडरमा जिला के नवसृजित डोमचांच नगर पंचायत में पहला आम चुनाव एवं झुमरी तिलैया नगर...

Dainik Bhaskar

Apr 04, 2018, 03:10 AM IST
झुमरीतिलैया 1952 में नोटिफाइड एरिया बना
भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया

कोडरमा जिला के नवसृजित डोमचांच नगर पंचायत में पहला आम चुनाव एवं झुमरी तिलैया नगर पर्षद में अध्यक्ष पद के उप चुनाव 16 अप्रैल को होगा। झुमरी तिलैया शहर को वर्ष 1952 में नोटिफाइड एरिया के रूप में घोषित किया गया। नोटिफाइड एरिया कमेटी का प्रत्यक्ष चुनाव नहीं किया जाता था। नोटिफाइड एरिया कमेटी के अध्यक्ष अनुमंडलीय पदाधिकारी तथा उपाध्यक्ष के रूप में सामाजिक कार्यकर्ता को मनोनीत किए जाने का प्रावधान था। नोटिफाइड एरिया ही शहर के रख रखाव के कार्यों को देखती थी। 10 नवंबर 1972 में झुमरी तिलैया नगर पालिका अस्तित्व में आया, लेकिन इसका पहला चुनाव 1977 में हुआ। निर्वाचित प्रतिनिधियों एवं मनोनीत सदस्यों को मिलाकर बोर्ड का गठन किया गया। दूसरा चुनाव वर्ष 1978 में संपन्न हुआ और इस कार्यकाल में गठित बोर्ड वर्ष 1983 तक रहा। तीसरा चुनाव वर्ष 1983 में हुआ, जिसका कार्यकाल 1988 तक रहा। पुन: 20 वर्षों तक नगरपालिका का चुनाव नहीं हुआ और क्षेत्र की रखरखाव का जिम्मा विशेष पदाधिकारियों के कंधे पर था। वर्ष 2010 में झुमरी तिलैया नगर पर्षद का चुनाव हुआ। उस समय शहर में 26 वार्ड थे। नगर पर्षद का पुन: चुनाव 2015 में हुआ, जिसका कार्यकाल 2020 तक है। 2015 के आम चुनाव में निर्वाचित अध्यक्ष उमेश सिंह की सदस्यता रद्द होने के बाद यहां इस पद के लिए उप चुनाव होना है।

10 नवंबर 1972 में झुमरीतिलैया नगर पालिका अस्तित्व में आया था

पहले उपाध्यक्ष अयोध्या प्रसाद थे

नोटिफाइड एरिया के पहले उपाध्यक्ष अयोध्या प्रसाद बनाए गए थे। वे लगातार दो टर्म तक रहे। इसके उपरांत 1962 में गंगाधर सामंता उपाध्यक्ष बनाए गए। इसके उपरांत क्रमश: काशीराम और ललित मोहन अग्रवाल नोटिफाइड एरिया के उपाध्यक्ष बनाए गए। वर्ष 1977 के आम चुनाव के बाद गठित बोर्ड के अध्यक्ष डाॅ. एसके दास, जबकि अप्रत्यक्ष चुनाव में आदित्य कुमार आर्य बोर्ड के उपाध्यक्ष बने। एक वर्ष के बाद ही बोर्ड भंग हो गई। वर्ष 1978 एवं 1983 के अाम चुनाव में नंदलाल यादव अध्यक्ष चुने गए, जिनका कार्यकाल 1988 तक रहा। 1978 में उपाध्यक्ष रामचंद्र पंडित तथा 1983 में उमेश सिंह उपाध्यक्ष बने। वर्ष 2010 में नगर पर्षद के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का चुनाव प्रत्यक्ष रूप से किया गया। इसमें बजरंगी प्रसाद अध्यक्ष और अनवारूल हक उपाध्यक्ष निर्वाचित हुए। 2015 के आम चुनाव में उमेश सिंह अध्यक्ष निर्वाचित किए गए, जबकि अप्रत्यक्ष चुनाव में संतोष यादव उपाध्यक्ष चुने गए।

X
झुमरीतिलैया 1952 में नोटिफाइड एरिया बना
Click to listen..