• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Kodarma
  • एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में दलित संगठनों के भारत बंद का दिखा असर, सड़क पर उतरे समर्थक
--Advertisement--

एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में दलित संगठनों के भारत बंद का दिखा असर, सड़क पर उतरे समर्थक

भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में सोमवार को दलित संगठनों की आेर से आहूत भारत बंद...

Dainik Bhaskar

Apr 03, 2018, 03:15 AM IST
एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में दलित संगठनों के भारत बंद का दिखा असर, सड़क पर उतरे समर्थक
भास्कर न्यूज | झुमरी तिलैया

एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में सोमवार को दलित संगठनों की आेर से आहूत भारत बंद का जिले में असर देखा गया। बंद समर्थकों ने करीब 2 घंटे तक ग्रैंड कॉर्ड सेक्सन पर ट्रेनों का परिचालन बाधित रखा। चंदवारा में बजरंग बली मंदिर व उरवां के समीप रांची-पटना मुख्य मार्ग को करीब 3 घंटे तक जाम रखा। शहर में बंद के दौरान बंद समर्थकों व फुटपाथी दुकानदारों के बीच हल्की झड़प के बाद एक ठेले पर रखे फलों को सड़कों पर बिखेर दिया। इसके पूर्व बंद को लेकर दलित उत्पीड़न संघर्ष समिति व दलित शोषण मुक्ति मंच सहित वामदलों के कार्यकर्ता सुबह 9 बजे से ही काेडरमा व झुमरीतिलैया की सड़कों पर उतरकर बाजार को बंद कराते नजर आए।

इस दौरान झंडा चौक पर फुटपाथी दुकानदारों को बंद कराने के दौरान हल्की झड़प भी हुई और प्रशासन मूकदर्शक बना रही। बाद में 2137 बंद समर्थकों को गिरफ्तार कर श्रम कल्याण केंद्र में रखा गया। बंद को लेकर जिले के सभी प्रखंडों से करीब 5 हजार लोग सड़क पर उतरकर अपना विरोध प्रदर्शन किया। प्रत्येक जत्था में 400-500 बंद समर्थक शामिल थे। झुमरी तिलैया में बंद का नेतृत्व महादेव राम, प्रेम प्रकाश, इंद्रदेव राम, राम बालक चौधरी, विजय रजक, गणेश दास, वीरेंद्र पासवान, विनोद रजक, संजय दास कर रहे थे। वहीं कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार पासवान के नेतृत्व में कोडरमा बाजार में जुलूस निकाल विरोध प्रदर्शन किया गया। मौके पर रविशंकर यादव, प्रभात कुमार राम, रामलखन पासवान, भागीरथ पासवान सहित अन्य मौजूद थे।

चंदवारा में 3 घंटे तक रांची-पटना रोड जाम किया जयनगर में रोकी रेल, 2137 बंद समर्थक गिरफ्तार

बंद के दौरान सड़कों पर उतरे दलित संगठनों के कार्यकर्ता।

बंद समर्थकों पर मारपीट करने की प्राथमिकी

बंद समर्थकों द्वारा किए गए मारपीट में घायल राजकुमार राम ने चार नामजद सहित अन्य 30-40 अज्ञात लोगों पर तिलैया थाने में आवेदन देकर मामला दर्ज कराया है। दिए गए आवेदन में राम ने बताया कि बंद के दौरान प्रकाश अंबेडकर, उमेश रविदास, विकास कुमार दास व छोटू कुमार दास सहित 30-40 अज्ञात लोगों ने उनके ठेले पर आकर गाली गलौज और मारपीट करते हुए दुकान बंद करने को कहा और फल सहित ठेला को पलट दिया। जिससे सारा फल सड़कों पर बिखर गया। विरोध करने पर लाठी-डंडे से पीटकर जख्मी कर दिया और गल्ले में रखे 9500 रुपए निकाल लिया।

कोडरमा व चंदवारा में 18 नामजद व दर्जनों अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी

भारत बंद के दौरान हिंसक भीड़ द्वारा नाजायज मजमा बनाकर हरवे हथियार के साथ सड़क जाम कर आवागमन बाधित करने व सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने सहित पुलिस से झड़प को लेकर कोडरमा थाने में 8 नामजद व 50-60 अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी आनंद मोहन सिंह ने बताया कि बंद के दौरान जुलूस में शामिल लोगों ने दूधीमाटी के पास आवागमन को बाधित करने का प्रयास किया था। साथ ही रोके जाने पर पुलिस से उनकी झड़प हो गई थी। इस दौरान भीड़ ने पुलिस के एक वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया। जिन लोगों पर मामला दर्ज किया गया है उनपर गैर जमानतीय धारा लगाई गई है। नामजद लोगों का नाम बताने से थाना प्रभारी ने इंकार किया है। वहीं बंद के दौरान चंदवारा थाना में भी 10 नामजद व 30-40 अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराया गया है। इनके ऊपर बंद के दौरान सड़क जाम करने व आवागमन बाधित करने का आरोप है।

दूधीमाटी के समीप पुलिस गाड़ी का शीशा तोड़ा

कोडरमा | बंद के दौरान दुधीमाटी के समीप भीड़ बेकाबू हो गई। सड़क से गुजर रहे वाहनों को रोकने का प्रयास करने लगी। इस दौरान अपने आवास से कार्यालय जा रहे जिले के एसपी शिवानी तिवारी ने भीड़ को समझाने का प्रयास किया। इस दौरान जुलूस में शामिल लोगों की पुलिस से नोकझोंक भी हो गई। साथ ही भीड़ ने पुलिस के एक वाहन का शीशा भी तोड़ दिया। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए नौ लोगों को हिरासत में लेकर थाने ले आई।

यदुडीह हॉल्ट पर रेलवे ट्रैक को जाम करते प्रदर्शनकारी ।

प्रदर्शनकारियों ने धनबाद-गया रेलखंड पर तीन घंटे तक परिचालन किया बाधित

जयनगर | एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में सोमवार को आयोजित देशव्यापी बंद को लेकर दलित उत्पीड़न संघर्ष समिति व भाकपा माले के कार्यकर्ताओं ने धनबाद-गया रेलखंड के यदुडीह हॉल्ट में करीब 3 घंटे तक रेल चक्का जाम किया। जाम का नेतृत्व माले नेता राजकुमार पासवान, इब्राहिम अंसारी, विजय पासवान कर रहे थे। रेल चक्का जाम सुबह 5 बजे से 8 बजे तक किया गया। जाम के कारण नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस सरमाटांड़ स्टेशन पर व हावड़ा कालका मेल एक्सप्रेस परसाबाद स्टेशन पर लगभग एक घंटे तक खड़ी रही। वही अन्य कई लोकल ट्रेन व मालगाड़ी भी 3 घंटे तक दूसरे स्टेशनों पर खड़ी रही। बाद में थाना प्रभारी एलबी प्रसाद, सहायक अवर निरीक्षक, विद्यानंद पाठक, सत्येंद्र सिंह व कोडरमा रेल थाना के सहायक अवर निरीक्षक नारद गहलोत की पहल पर लगभग 8 बजे रेल चक्का को हटाया गया। वहीं पेठियाबागी बाजार में बंदी के दौरान एक दुकानदार के विरोध करने तथा जातिसूचक शब्द के प्रयोग करने पर दलित समाज के लोगों ने जमकर उसकी धुनाई कर दी। मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी एलबी प्रसाद ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। इस मौके पर खगेंद्र राम, कैलाश राम, मनोज रजक, देवेंद्र कुमार, सुखदेव राम, इब्राहिम अंसारी, भोला यादव अशोक यादव असगर अंसारी बहादुर पासवान, विकास दास शारदा देवी, शंकर रविदास, सुरेंद्र सिंह, महादेव दास, उमाशंकर दास राजेंद्र प्रसाद सहित कई लोग मौजूद थे।

X
एससी, एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में दलित संगठनों के भारत बंद का दिखा असर, सड़क पर उतरे समर्थक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..