Home | Jharkhand | Kodarma | पत्थर खदान में किशोर की डूबकर मौत

पत्थर खदान में किशोर की डूबकर मौत

नावाडीह पंचायत के ग्राम दरदाही करीब आधा किलोमीटर दूर पंदना जंगल के समीप पानी भरे अवैध रुप से संचालित पत्थर खदान...

Bhaskar News Network| Last Modified - Mar 26, 2018, 03:30 AM IST

1 of
पत्थर खदान में किशोर की डूबकर मौत
नावाडीह पंचायत के ग्राम दरदाही करीब आधा किलोमीटर दूर पंदना जंगल के समीप पानी भरे अवैध रुप से संचालित पत्थर खदान में डूबने से एक किशोर की मौत हो गई। मृतक की पहचान मरकच्चो थाना क्षेत्र अंतर्गत नावाडीह पंचायत के ग्राम गगरेसिंघा निवासी कारू महतो के सत्रह वर्षीय पुत्र सुधीर कुमार के रूप में कई गई है। किशोर भारती उच्च विद्यालय नावाडीह के आठवीं कक्षा का छात्र था।

घटना रविवार की सुबह नौ बजे की है जानकारी अनुसार युवक सुधीर अपने तीन दोस्तों के साथ जंगल में पशु चराने गया था। इसी दौरान साथियों के साथ पानी भरे खदान में नहाने लगा। सुधीर गहरे पानी में चला गया और काफी देर तक बाहर नहीं निकला। जबकि उसके अन्य साथी बाहर निकल गए। दोस्तों ने इसकी जानकारी गांव वालों को दी। जानकारी के बाद काफी संख्या में ग्रामीण उक्त स्थल पर पहुंचे और पानी अंदर में खोज बीन करने लगे। लेकिन पानी की गहराई करीब 15 से 20 फीट होने के कारण युवक को निकालने में घंटों मशक्कत करनी पड़ी। ग्रामीणों ने पंप मशीन के सहारे खदान से पानी को बाहर निकाला। उसके बाद करीब 12.30 बजे बांस की बल्ली के सहारे युवक के शव को बाहर निकाला गया। जानकारी मिलने पर एडीएमओ राजा राम प्रसाद , बीडीओ ज्ञानमणी एक्का, सीओ हुलास महतो, थाना प्रभारी नरेश रजक, जिप सदस्य राज कुमार यादव मौके पर पहुंचे । पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए कोडरमा सदर भेज दिया। घटना के बाद गांव में रामनवमी की खुशी मातम में तब्दील हो गया। वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था मृतक तीन भाई व दो बहन था मृतक भाइयों में दूसरे नंबर पर था। ग्रामीणों ने बताया की उक्त खदान पिछले करीब छह माह पूर्व से संचालित है।

मृतक की फाइल फोटो।

िसर्फ वही नकारात्मक खबर, जो आपको जानना जरूरी है

पिता ने कहा अवैध खदान में नहीं था सुरक्षा घेरा, फिसलकर हुई मौत

शव को खेाजते ग्रामीण।

खदान में सुरक्षा घेरा का कोई इंतजाम नहीं था

मामले को लेकर मृतक के पिता कारू यादव ने थाने में आवेदन दिया है। आवेदन में उन्होंने कहा है कि उनका पुत्र रविवार की सुबह लगभग 8 बजे मवेशी चराने गांव से पूरब पंदना जंगल स्थित श्मशान घाट की ओर गया था। जहां से सौ मीटर की दूरी पर स्थित एक अवैध पत्थर खदान में जमे पानी को पीने मवेशी चले गये और मवेशियों को घुमाने के क्रम में युवक का पैर फिसल गया और वो गहरे पानी में जा गिरा । आवेदन में कहा गया है की उक्त खदान बेहराडीह जयनगर निवासी पंचदेव कुमार व खीरु साव का है। उक्त खदान में सुरक्षा घेरा का कोई इंतजाम नहीं था। जिसकी वजह से उसके बेटे की पानी भरे खदान में डूबने के कारण मृत्यु हो गई।

विलाप करते परिजन।

अवैध रुप से संचालित थी खदान : एडीएमओ

जिला सहायक खनन पदाधिकारी राजाराम प्रसाद ने पूछे जाने पर बताया की खदान अवैध रुप से संचालित थी। उन्हें खनन की कोई जानकारी नहीं थी। उन्होंने कहा की इस मामले में शामिल लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाएगी ।

पत्थर खदान में किशोर की डूबकर मौत
पत्थर खदान में किशोर की डूबकर मौत
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now