Hindi News »Jharkhand »Kodarma» दलित शोषण मुक्ति मंच ने मनाई रैदास की जयंती

दलित शोषण मुक्ति मंच ने मनाई रैदास की जयंती

कोडरमा | दलित शोषण मुक्ति मंच (डीएसएमएम) ने शिरोमणि संत रैदास की 562वीं जयंती बुधवार को सामुदायिक भवन में मनाई गई।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:50 PM IST

कोडरमा | दलित शोषण मुक्ति मंच (डीएसएमएम) ने शिरोमणि संत रैदास की 562वीं जयंती बुधवार को सामुदायिक भवन में मनाई गई। मौके पर पूर्व निर्वाचन पदाधिकारी साधु चरण राम ने रैदास के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। मौके पर उन्होंने कहा कि संत रैदास एक समाज सुधारक थे। ब्राह्मणवाद के खिलाफ उन्होंने सैकड़ों दोहों की रचना की जिसमें उनका सबसे प्रचलित दोहा है मन चंगा तो कटौती मे गंगा। वहीं डीवाईएफआई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय पासवान ने जातिवाद पर संत रैदास की कथन रखते हुए कहा कि जिस प्रकार केले के तने को छिला जाय तो पते के नीचे पत्ता और कुछ नहीं निकलता है, पूरा पेड़ खत्म हो जाता है। उसी प्रकार जाति खत्म नहीं होगा तब तक इंसान एक दूसरे से जुड़ नहीं सकता है। सीटू नेता रमेश प्रजापति ने कहा कि संविधान की रक्षा के लिए और दलितों पर हो रहे हमला के खिलाफ सबको एक होना होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष दिनेश रविदास ने किया। मौके पर वार्ड पार्षद रिया राज, सचिन कुमार के अलावा बाबूलाल पासवान, लखन रजक, कृष्णा दास, विजय पासवान, भिखारी राम, जागेश्वर दास, डालेश्वर राम, बाल गोविंद पासवान, जितेन्द्र दास, अरूण दास, अरूण दास, टेकलाल दास सहित अन्य लोग मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kodarma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×