सीसी एप और झारखंड कॉप एप से की जाएगी अपराधी-उग्रवादियों की निगरानी

Kodarma News - जिले में अब पुलिस आईटी सेल के माध्यम से अपराधियों की निगरानी कर रही है। इस सेल के माध्यम से कोई भी अपराधी पुलिस के...

Oct 13, 2019, 06:30 AM IST
जिले में अब पुलिस आईटी सेल के माध्यम से अपराधियों की निगरानी कर रही है। इस सेल के माध्यम से कोई भी अपराधी पुलिस के नजर से नहीं बच पाएंगे। इसमें जिले की पुलिस दो एप का उपयोग कर रही है। इसमें एक क्राइम कंट्रोल(सीसी) एप और दूसरा झारखंड कॉप एप शामिल है।

पुलिस क्राइम कंट्रोल एप के माध्यम से अपराध को नियंत्रण और झारखंड कॉप के माध्यम से कांडों के अनुसंधान कर रही है। यह जानकारी एसपी अखिलेश वी वारियर ने शनिवार को समाहरणालय के सभाकक्ष में प्रेस वार्ता में दी। इससे पहले एसपी ने पुलिस अधिकारियों के साथ क्राइम की मीटिंग की। इसके बाद आयोजित प्रेस वार्ता में एसपी ने बताया कि अपराध को नियंत्रण और कांडों के निष्पादन में उपरोक्त दोनों एप काफी उपयोगी है। क्राइम कंट्रोल एप के माध्यम से अपराधियों की जन्मकुंडली निकाली जा सकती है। इस एप्प के माध्यम से कोई भी अपराधी या उग्रवादी नहीं बच पाएंगे। पुलिस को किसी पर भी संदेह होने पर क्राइम कंट्रोल एप में नाम डालते ही, उसका पूरी क्राइम रिर्पोट मिल जाएगी। राज्य के किसी भी थाना में उसपर मामला दर्ज होगा तो इस एप्प में उसकी सारी जानकारी दिखेगा।

इसके बाद झारखंड कॉप में उस केस से संबंधित जानकारी पुलिस को मिल जाएगी। यदि किसी भी थाने में मामला दर्ज हो और वह वारंटी निकला तो पुलिस तुरंत उसे गिरफ्तार कर लेगी। एसपी ने बताया कि यही जानकारी वाहनों के बारे में भी एप्प के जरिए पुलिस को प्राप्त होगी। इससे वाहन चोरी सहित आपराधिक घटना पर लगाम लगेगा। वाहनों के नियंत्रण के लिए डीटीओ कार्यालय से लिंकेज किया गया है। एसपी ने बताया कि झारखंड कॉप एप्प के माध्यम से पुलिस को अनुसंधान नियंत्रण और केस डिस्पोजल से संबंधित मामले की जानकारी प्राप्त होगी।

एसपी ने बताया कि पुलिस की नजर अवैध रूप से बालू ढुलाई रखी जा रही है। इटखोरी में अवैध बालू ढुलाई करने वाले पर कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि अफीम के व्यापारियों पर भी कड़ी नजर है। जिले में अवैध रूप से जानवर के व्यापार नहीं करने दी जाएगी।प्रतिबंधित मांस पर पूरी तरह रोक है। इसपर भी पुलिस की नजर है। उन्होंने यह भी बताया कि अवैध रूप से संचालित शराब के रोक थाम के लिए पुलिस कड़ी कार्रवाई कर रही है। विशेषकर बिहार से सटे वाले क्षेत्रों में अवैध शराब के विरूद्ध पुलिस अभियान चला रही है।

विधानसभा चुनाव कराने को लेकर बनाई गई रणनीति

एसपी ने बताया कि जिले में विधान सभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर रणनीति तैयार की गई है। इसी रणनीति के तहत पुलिस काम करेगी। उन्होंने बताया कि जिले में विधि व्यवस्था बनाने के लिए जिला प्रशासन के सहयोग से लाइसेंसी हथियार को जमा लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इन दिनों काॅलेश्वरी जाेन में उग्रवादियों की गतिविधि बढ़ गई है। इस पर नजर रखी जा रही है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना