कोडरमा

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Kodarma
  • पहली बार बालू की अवैध ढुलाई करने वाले वाहन को फाइन लेकर छोड़ें, दूसरी बार कराएं प्राथमिकी
--Advertisement--

पहली बार बालू की अवैध ढुलाई करने वाले वाहन को फाइन लेकर छोड़ें, दूसरी बार कराएं प्राथमिकी

उपायुक्त भुवनेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में गुरुवार को टास्क फोर्स की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में हुई। बैठक में...

Dainik Bhaskar

Apr 13, 2018, 02:30 AM IST
उपायुक्त भुवनेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में गुरुवार को टास्क फोर्स की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में हुई। बैठक में उपायुक्त ने खनन टास्क फोर्स की समीक्षा करते हुए सभी सीओ व थाना प्रभारी को अवैध बालू ढुलाई करते हुए वाहन पकड़ने पर जिला खनन पदाधिकारी को सूचना देने व रिपोर्ट तैयार कर नियम संगत कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि यदि कोई वाहन पहली बार अवैध बालू ढोते पकड़ा जाता है तो फाइन लेकर छोड़ दे, लेकिन एक बार से अधिक पकड़े जाने पर प्राथमिकी दर्ज कराए। उन्होंने कहा कि पंचायत स्तर पर बालू का खनन व परिवहन के लिए सीओ से अनुमति लेनी होगी और 100 सीएफटी प्रतिवाहन की दर निर्धारित है। अवैध खनन व माइका ले जाने वाले वाहनों को हर हाल में जब्त करने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि जिले में केवल एक लाइसेंसधारी मनोज भदानी है। जिन्हें माइका का व्यापार करने का लाइसेंस सरकार से प्राप्त है। डीसी ने वन क्षेत्र में अवैध खनन पर कार्रवाई के लिए रेंजर, सीओ व थाना प्रभारी को मिलकर काम करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने वैसे क्रशर जिन्होंने कभी भी अनुमति या लाइसेंस प्राप्त नहीं किया है, वैसे क्रशर व खदान जिसपर पूर्व में प्राथमिकी दर्ज की है। मगर उसे बंद नहीं किया है। उसे ध्वस्त करने का निर्देश सभी सीओ को दिया। डीसी ने टास्क फोर्स की अगली बैठक के पूर्व 2 क्रशर को कम से कम ध्वस्त करने का लक्ष्य सीओ को दिया है। उपायुक्त ने शक्तिमान ट्रक को सड़क पर परिवहन करते हुए देखा गया तो उन्हें जब्त कर आवश्यक कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया।

X
Click to listen..