कोडरमा

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Kodarma
  • वित्तीय धोखाधड़ी के मामलों में 72 घंटे में गेटवे पेमेंट को दें जानकारी
--Advertisement--

वित्तीय धोखाधड़ी के मामलों में 72 घंटे में गेटवे पेमेंट को दें जानकारी

साइबर अपराध की रोकथाम और इसमें शामिल अपराधियों पर अंकुश लगाने को लेकर बुधवार को एसपी शिवानी तिवारी की अध्यक्षता...

Dainik Bhaskar

Apr 12, 2018, 02:35 AM IST
साइबर अपराध की रोकथाम और इसमें शामिल अपराधियों पर अंकुश लगाने को लेकर बुधवार को एसपी शिवानी तिवारी की अध्यक्षता में पुलिस पदाधिकारियों व कर्मियों के लिये एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। मौके पर तथ्य फॉरेसिंक विंग फेडरेशन दिल्ली के निदेशक संजय मिश्रा ने साइबर अपराध के मामले के अनुसंधान को लेकर अपनाए जाने वाले तकनीकी पहलुओं की विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि आम तौर पर वित्तीय धोखाधड़ी के मामले और धोखाधड़ी के सहारे के किसी के फेसबुक व वाट्सअप को हैंग कर उसका गलत इस्तेमाल के मामले ज्यादा देखे जा रहे है। साेशल मीडिया के गलत उपयोग कर आपत्तिजनक व भ्रामक पोस्ट कर समाज में अशांति पैदा किये जाने के मामले भी काफी आ रहे है। एेसे में इस प्रकार के मामलो में पुलिस को काफी सर्तक रहने व इसमें शामिल लोगों पर त्वरित कार्रवाई किये जाने की जरूरत है। वित्तीय धोखाधड़ी के मामले को लेकर निदेशक ने पुलिस पदाधिकारियों के दर्ज होने वाले मामले की 72 घंटे के अंदर इसकी सूचना पेमेंट गेटवे को दिये जाने की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि निर्धारित समय सीमा के अंदर सूचना देने पर पैसे की रिकवरी की जा सकती है। किसी भी बैंक द्वारा ग्राहकों से फोन पर खाते से संबंधित किसी प्रकार की जानकारी नहीं ली जाती है। ऐसे में ग्राहकों को इस प्रकार के मैसेज पर सावधान रहने की जरूरत है।

उन्होंने इस प्रकार के मामले में आवेदक से पूरा डिटेल लेने की जानकारी दी। इसके अलावा कार्यशाला के दौरान पुलिस को साइबर अपराध के रोकथाम को लेकर कई महत्वपूर्ण टिप्स भी दिये गये। मौके पर उपस्थित एसपी शिवानी तिवारी ने पुलिस कर्मियों को साइबर अपराध के मामले में अधिक संवेदनशील होकर मामले के अनुसंधान में तत्परता दिखाने की बात कही। उन्होंने ऐसे मामलों के रोकथाम को लेकर आमलोगों को भी मोबाइल पर इस प्रकार के आनेवाले मैसेज के प्रति सावधान होने व किसी भी अज्ञात व्यक्ति को अपने खाते व एटीएम से संबंधित नंबर की जानकारी नहीं देने की बात कही।

X
Click to listen..