Hindi News »Jharkhand »Kodarma» गैर मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों को डीएसई ने किया शोकाॅज

गैर मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों को डीएसई ने किया शोकाॅज

जिले में गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के संचालकों को डीएसई प्रबला खेस ने 48 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण दिये जाने का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 20, 2018, 02:50 AM IST

जिले में गैर मान्यता प्राप्त स्कूलों के संचालकों को डीएसई प्रबला खेस ने 48 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण दिये जाने का निर्देश देते हुए उन विद्यालयों को नोटिस भेजा है। इस बाबत डीएसई ने कहा है निर्धारित अवधि में स्पष्टीकरण नहीं देने पर विद्यालयों पर नि.शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2009 का उल्लंघन के आरोप में 2018-19 से विद्यालय बंद करते हुए अर्थ दंड के रूप में एक लाख एवं प्रत्येक कार्य दिवस के अनुसार दस हजार रुपए की वसूली की जाएगी। नोटिस में कहा गया है कि जिले में संचालित गैर मान्यता प्राप्त निजी विद्यालयों के प्रबंधन समित के सचिव एवं प्रधानाध्यापक को मान्यता प्राप्त के लिये प्रपत्र 01 भरकर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया था। मगर कई विद्यालयों द्वारा अबतक प्रपत्र उपलब्ध नहीं कराया गया है। डीएसई ने कहा है कि ऐसे विद्यालय जिसका स्थापना शिक्षा अधिकार अधिनियम के लागू होने के बाद की गई है। उन्हें इस नियम के अधीन मान्यता के लिये अर्हता प्राप्त करने के लिये अधिनियम के तहत निर्धारित मानकों को पूरा किया जाना जरूरी है। उन्होंने कहा है कि कई विद्यालयों द्वारा बगैर मान्यता के ही अपने स्कूल के शिक्षकों का डीएलएड में नामांकन कराया गया है। इधर डीएसई ने इस बात भी जानकारी दी है कि डीएलएड के लिए ऑन लाईन कई स्कूलों द्वारा शिक्षकों के कराए गये नामांकन की जांच के दौरान उनमें कई विद्यालयों का जिले के अंदर कोई अता-पता नहीं चल रहा है। विभाग द्वारा इस संबंध में विस्तृत ब्योरा तैयार की जा रही है। प्रारंभिक तौर पर ऐसे 20 विद्यालयों के संबंध में अबतक प्रारंभिक रूप से जानकारी मिली है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kodarma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×