• Hindi News
  • Jharkhand
  • Kodarma
  • बच्चों में संस्कार के लिए स्कूलों में मातृ पितृ पूजन जरूरी
--Advertisement--

बच्चों में संस्कार के लिए स्कूलों में मातृ-पितृ पूजन जरूरी

Dainik Bhaskar

Apr 20, 2018, 02:55 AM IST

Kodarma News - शिवतारा सरस्वती विद्या मंदिर यदुटांड़ में नए विद्यालय भवन का उद्घाटन गुरुवार को मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद...

बच्चों में संस्कार के लिए स्कूलों में मातृ-पितृ पूजन जरूरी
शिवतारा सरस्वती विद्या मंदिर यदुटांड़ में नए विद्यालय भवन का उद्घाटन गुरुवार को मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद शिक्षा मंत्री डाॅ. नीरा यादव ने किया। मौके पर पूजन व हवन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि ने कहा कि शिवतारा सरस्वती विद्या मंदिर शहर का एक आदर्श विद्यालय है। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालयों में मातृ-पितृ पूजा का शुभारंभ हो ताकि बच्चों में बड़ों के प्रति सम्मान का भाव बढ़े। उन्होंने कहा कि नैतिक शिक्षा का समावेश आने वाले पाठ्यक्रमों में लगाया जाएगा। वहीं विद्यालय सचिव रामरतन महर्षि ने कहा कि नवीन भवन का निर्माण कई व्यक्तियों के सहयोग से हुआ है। नए भवन 3 एकड़ 44 डिसमिल भूमि पर है, जो शिवजी सिंह द्वारा दान के रूप में दिया गया है। नए भवन में नर्सरी से कक्षा अष्टम तक की पढा़ई होगी। स्वागत भाषण प्रधानाचार्य रंजीत सिंह ने दिया। कार्यक्रम को विशिष्ट अतिथि सुरेश झांझरी, डा. नरेश कुमार पंडित, आरएसएस के जिला संघ चालक वीरेंद्र प्रताप सिंह, विद्यालय कार्यकारिणी समिति के अध्यक्ष प्रो. वीरेंद्र सिंह, रामविलास केवट, कैलाश राय सरस्वती विद्या मंदिर के पूर्व सचिव नारायण सिंह, प्रधानाचार्य अमरेंद्र नाथ दत्त ने भी संबोधित किया। पूजन व हवन कार्य आचार्य रंजीत कुमार पांडेय ने संपन्न कराया। मौके पर आचार्य हरिशंकर प्रसाद, रंगनाथ पाठक, सिद्धि प्रसाद, अमर डे, आनंद सिन्हा, प्रभात कुमार, संजय कुमार, अरूण कुमार, ब्रह्मदेव सिंह चौहान, रंजीत पांडेय, राजेश्वर सिंह, उमेश कुमार, संतोष कुमार, मनोज कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे।

X
बच्चों में संस्कार के लिए स्कूलों में मातृ-पितृ पूजन जरूरी
Astrology

Recommended

Click to listen..