सिमरिया में तस्वीर साफ नहीं, फिर भी मुकाबला दिलचस्प होने की संभावना

Kodarma News - सिमरिया विधानसभा क्षेत्र की तस्वीर अभी साफ नहीं हुई है। फिर भी मुकाबला दिलचस्प होने की उम्मीद है। भाजपा ने इस...

Nov 11, 2019, 06:25 AM IST
सिमरिया विधानसभा क्षेत्र की तस्वीर अभी साफ नहीं हुई है। फिर भी मुकाबला दिलचस्प होने की उम्मीद है। भाजपा ने इस विधानसभा क्षेत्र के अपने सिटिंग एमएलए गणेश गंझू का भी टिकट काट दिया है। हालांकि गणेश गंझू पिछली बार बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़कर नहीं जीते थे। जेवीएम के टिकट पर जीते थे। जीत के बाद भाजपा में शामिल हो गए थे। इस बार भाजपा ने उनपर भरोसा नहीं किया। इस बार सिमरिया में पार्टी ने अपने जमीनी कार्यकर्ता किशुन दास को उम्मीदवार बनाया है। किसुनदास टंडवा प्रखंड मुख्यालय का निवासी है। इस तरह देखा जाए तो सिमरिया में पहली बार टंडवा प्रखंड की भागीदारी हो रही है। भाजपा-आजसू के बीच यदि गठबंधन नहीं हुआ तो इस क्षेत्र से आजसू का चुनाव लड़ना भी तय है।

आजसू इस बार इस क्षेत्र से हरहाल में चुनाव लड़ना चाहता है। भाजपा से गठबंधन के तहत भी आजसू इस सीट के लिए अड़ा हुआ था। इस क्षेत्र से आजसू अपना उम्मीदवार मनोज चंद्रा को बनाना चाहता है। मनोज चंद्रा पूर्व सीपीआई विधायक रामचंद्र राम के पुत्र हैं। पिछली बार वे राजद के टिकट पर चुनाव लड़े थे। सिमरिया से सीपीआई भी अपना प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा से टिकट कटने के बाद गणेश गंझू से बातचीत का लगातार प्रयास किया गया। लेकिन उनसे संपर्क नहीं हुआ। इसलिए अभी उनकी प्रतिक्रिया नहीं आ पाई है। वैसे सिमरिया से गठबंधन का उम्मीदवार भी अभी तय नहीं हुआ है। लेकिन जेवीएम का यहां लड़ना तय है। जेवीएम की तरफ से यहां कई उम्मीदवार टिकट के प्रयास में लगे हैं। इनमें रामदेव सिंह भोक्ता, छठू भोक्ता, जीतन राम व बालगोविंद बैठा के नाम शामिल हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना