• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Mandu
  • भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल साढ़े तीन करोड़ लोगों की भावनाओं के खिलाफ
--Advertisement--

भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल साढ़े तीन करोड़ लोगों की भावनाओं के खिलाफ

महामहिम राष्ट्रपति के द्वारा भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक 2017 को मंजूरी मिलने के विरोध में संयुक्त मोर्चा द्वारा...

Dainik Bhaskar

Jun 22, 2018, 03:30 AM IST
भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल साढ़े तीन करोड़ लोगों की भावनाओं के खिलाफ
महामहिम राष्ट्रपति के द्वारा भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक 2017 को मंजूरी मिलने के विरोध में संयुक्त मोर्चा द्वारा प्रखंड मुख्यालय मांडू में गुरूवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि झामुमो के केंद्रीय सदस्य राजकुमार महतो उपस्थित थे। मौके पर वक्ताओं ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा लाया गया भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक 2017 अब तक का सबसे घातक काला कानून है। जो झारखंड के लगभग साढ़े तीन करोड़ लोगों के अलावा राज्य के आदिवासी, मूलवासी और किसानों की आकांक्षाओं की जन भावनाओं के विपरीत है। धरना प्रदर्शन के पश्चात महामहिम राज्यपाल के नाम एक मांग पत्र मांडू बीडीओ को सौंपा। कार्यक्रम की अध्यक्षता झामुमो प्रखंड अध्यक्ष बालेश्वर महतो ने किया। कार्यक्रम को झामुमो के सुखदेव महतो, सागीर हुसैन, संतोष कुमार, गीता विश्वास, कैलाश मांझी, गीता देवी, पिंकी देवी, सुखदेव महतो वकील, दीपक टुडू, राजद के शाहिद सिद्दीकी , राजेश कुमार हांसदा, धनेश्वर हांसदा, जेवीएम के ज्ञानी महतो, दीपक कुमार, महेंद्र प्रसाद, राजू मुंडा सीपीआई के जयनंदन गोप, विनय कुमार झा, संतोष कुमार, लाली बेदिया, रामवृक्ष बेदिया, भोला पासवान, करमा मांझी समेत कई नेताओं ने संबोधित किया।

मांडू प्रखंड कार्यालय के समक्ष आयोजित धरना में शामिल लोग।

सरकार की नीतियों के खिलाफ विपक्ष ने धरना दिया

पतरातू | पतरातू प्रखंड मुख्यालय परिसर में गुरूवार को सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ विपक्षी एकता का प्रदर्शन करते हुए विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। झामुमो के केंद्रीय महासचिव संजीव बेदिया ने कहा कि झारखंड सरकार ने भूमि अधिग्रहण बिल लाकर काले कानून की शुरूआत की है। यह झारखंड के लोगों को धोखा देने वाला कानून है। इसे सरकार अविलंब वापस ले। जबकि अन्य वक्ताओं ने बिजली बिल में किए गए अप्रत्याशित वृद्धि काे कम करने किसानों की गैरमजरूआ जमीन को लैंड बैंक के नाम पर हड़पने की नीति को खत्म करने, खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत गरीबों को राशन कार्ड मुहैया कराने, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन की दर बढ़ाकर उन्हें भुगतान करने की जोरदार मांग उठाई गई। साथ ही राज्यपाल के नाम बीडीओ को ज्ञापन सौंपा गया। अध्यक्षता रंजीत बेसरा ने की और संचालन प्रदीप महतो और जयप्रकाश सिंह ने संयुक्त रूप से किया। मौके पर राजद प्रदेश महासचिव रमेश यादव, दुर्गाचरण प्रसाद, गोविंद बेदिया, महेंद्र सिंह, मुकेश रावत, संजय वर्मा, विनोद महतो, अलीम अंसारी, मुमताज अंसारी, हरिलाल बेदिया, बलजीत सिंह बेदी, अमर यादव, अमित साहू, विनोद साव, राजू पांडेय, प्रेमनाथ विश्वकर्मा आदि मौजूद थे।

X
भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल साढ़े तीन करोड़ लोगों की भावनाओं के खिलाफ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..