--Advertisement--

नक्सलियों को हर हाल में झारखंड से खदेड़ना है : डीजी

Medininagar News - भास्कर न्यूज | मेदिनीनगर/नौडीहा बाजार नौडीहा थाना से करीब 10 किलोमीटर की दूर स्थित कुहकुह कला पिकेट पर गुरुवार की...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:55 AM IST
नक्सलियों को हर हाल में झारखंड से खदेड़ना है : डीजी
भास्कर न्यूज | मेदिनीनगर/नौडीहा बाजार

नौडीहा थाना से करीब 10 किलोमीटर की दूर स्थित कुहकुह कला पिकेट पर गुरुवार की सुबह 10:35 पर सीआरपीएफ डीजी आरआर भटनागर हेलिकॉप्टर से पहुंचे। उन्होंने सीआरपीएफ और पुलिस के आलाधिकारियों के साथ बैठक कर मलंगा पहाड़ पर हुए मुठभेड़ की समीक्षा की। डीजी ने सीआरपीएफ व जिला पुलिस के अधिकारियों को इसी तरह से आपसी तालमेल बनाकर फाइट करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि नक्सलियों को हर हाल में झारखंड से खदेड़ना है।

इसके लिए दृढ़ संकल्प के साथ काम करने की जरूरत है। अभियान में शामिल पुलिस कर्मी व अधिकारी को सदैव अपनी जिम्मेवारी को समझना है, तभी सफलता हाथ लगेगी। उन्होंने मलंगा पहाड़ी और झझुनू पहाड़ी पर माओवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में शामिल टीम की सदस्यों को आॅपरेशन सफल बनाने के लिए बधाई दी। डीजी ने सीअारपीएफ के जवानों की समस्याओं को भी सुना। इससे पहले एसपी इंद्रजीत महथा, सीआरपीएफ कमांडेंट सतीश लिंडा और अभियान एसपी अरुण कुमार ने उनका स्वागत किया।

डीजी ने झझुनू और मलंगा पहाड़ पर माओवादी के कमांडर राकेश भुइयां समेत दस्ते के पांच उग्रवादियों को मार गिराने पर जवानों को बधाई दी। साथ ही 25 जवानों को डीजी डिस्क देकर सम्मानित किया और पांच जवानों को टैब देकर सम्मानित किया। डीजी ने जवानों को 4 लाख रुपए नकद का पुरस्कार भी दिया। सीआरपीएफ के कमांडेंट सतीश लिंडा ने डीजी से यह राशि प्राप्त की।

ग्रामीणों से मिले डीजी : डीजी बाहर खड़े ढेरों ग्रामीण और बच्चोें से मिले। उनसे हाथ मिलाया और उन्हें होली की बधाई दी। साथ ही बच्चों के बीच चॉकलेट भी बांटे। डीजी ने ग्रामीणों से सीधा संवाद भी किया। उनसे उनकी समस्याओं के बारे में पूछा। डीजी ने पूछा कि पहले और अब में क्या अंतर है? उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि अब डरने की बात नहीं है। पूरा इलाका नक्सल मुक्त होगा। आप सब की सुरक्षा का दायित्व पुलिस का है। आप सभी निर्भिक होकर अपना काम करें। डीजी के जाने के बाद एसपी इंद्रजीत महथा, अभियान एसपी अरुण कुमार सिंह, सीआरपीएफ कमांडेंट सतीश लिंडा ने जवानों के साथ होली खेली। इस दौरान एक दूसरे को अबीर लगाकर होली की शुभकामनाएं दी। मौके पर भोजपुरी गीत पर पुलिसकर्मियों ने डांस भी किया।

नौडीहा थाना पिकेट में जवान को टैब देकर सम्मानित करते सीआरपीएफ डीजी आरआर भटनागर।

बूढ़ा पहाड़ को भी नक्सल मुक्त बनाना है

उन्होंने कहा कि झारखंड के बूढ़ा पहाड़ जहां नक्सलियों का गढ़ माना जाता है वहां से नक्सलियों का सफाया करना है। वहां सफलता भी मिली है। बूढ़ा पहाड़ को नक्सल मुक्त बनाने के लिए सीआरपीएफ और झारखंड पुलिस के साथ एक कार्ययोजना तैयार की जा रही है। हमें भरोसा बहुत जल्द बूढ़ा पहाड़ नक्सलियों के चंगुल से मुक्त होगा। उन्होंने कहा पिछले तीन साल में पूरे भारत में माओवादी 60 प्रतिशत सिमट गए हैं और झारखंड में माओवादी के खात्मे के साथ विकास भी हो रही है। यहां की पुलिस क्षेत्र के विकास में उल्लेखनीय योगदान दे रही है।

X
नक्सलियों को हर हाल में झारखंड से खदेड़ना है : डीजी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..