• Home
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • हमसे अच्छे परिंदे हंै, कभी मंदिर-कभी मस्जिद में हैं डेरा
--Advertisement--

हमसे अच्छे परिंदे हंै, कभी मंदिर-कभी मस्जिद में हैं डेरा

शाहपुर हजरत हाशिम शाह वली शाह दाता के मजार पर लगने वाले दो दिनी कव्वाली का उद्‌घाटन महावीर नवयुवक दल जेनरल...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:00 AM IST
शाहपुर हजरत हाशिम शाह वली शाह दाता के मजार पर लगने वाले दो दिनी कव्वाली का उद्‌घाटन महावीर नवयुवक दल जेनरल मेदिनीनगर के संरक्षक युगल किशोर ने फीता काटकर कर उद्‌घाटन किया। इस दौरान किशोर ने कहा कि हजरत हाशिम शाह वली शाह दाता के मजार पर जो भी लोग सच्चे मन से मुराद मांगते हैं, उनकी मुरादें पूरी होती है।

उन्होंने कहा कि शाहपुर में लगने वाले पुरुष हिंदू मुस्लिम एकता की एक मिसाल है। मौके पर उपस्थित कांग्रेसी नेता सह डिप्टी मेयर के प्रत्याशी मनोज कुमार सिंह ने कहा कि हजरत वाली शाह दाता वीर थे। उन्होंने कई चमत्कार किया था। जिस कारण लोग आज उन्हें याद करते हैं। यहां उर्स मुबारक आयोजन का कार्यक्रम से भाईचारे का माहौल कायम होता है। ही मुंबई से आए रेडियो कलाकार जेबा बानो एवं सलीम जावेद ने एक से बढ़कर एक कव्वाली प्रस्तुत की। जिसमें दूर दराज से आए हुए लोगों ने रात भर मनोरंजन किया गया। कव्वाल सलीम जावेद ने कहा खुदा देता है और बार-बार देता है खुदा दुनिया को सवार देता है जमीन पर चेहरे की सिंगार को सवार देता है तू। उन्होंने मां पर कव्वाल गाते हुए कहा कि अपनी मां को मदीना दिखाना चाहता हूं हिंदू को सरजू दिखाना चाहता हूं मुसलमान को कुरान दिखाना चाहता हूं। कव्वाल जेबा बानो कहा कि मुस्लिम की करो प्रार्थना हिंदू को दुआ दो हिंदू मुसलमान के झगड़े को एक बार में मिटा दो हम एक हम एक मां की संतान हैं। आपस में प्रेम करो प्रेम करो प्रेम इंसान को इंसान बना देता है।

प्रेम इंसान को महान बना देता है हम से अच्छे तो परिंदा की जात हैं जो कभी मंदिर तो कभी मस्जिद में अपना डेरा जमा देते हैं। मौके पर अंजुमन कमेटी के सदर परवेज आलम, नेहाल कुरैशी, अकबर कुरैशी, शमसुद्दीन खलीफा, सुखाड़ीताईद, जमाई कुरैशी, समीर कुरैशी, सलीम कुरैशी, विक्की कुरैशी, बबलू खान, सलामुद्दीन खान, अजहर खान, शमसुद्दीन खलीफा सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

आयोजन

महावीर नवयुवक दल जनरल के संरक्षक ने किया कव्वाली मुकाबला का किया गया उद्घाटन, लोगों ने उठाया लुत्फ

चैनपुर में दो दिनी कव्वाली कार्यक्रम में कव्वाली गाते कव्वाल।