• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • प्रतिनियोजन पर रोक, फिर भी 100 से अधिक शिक्षक हो चुके हैं इधर से उधर
--Advertisement--

प्रतिनियोजन पर रोक, फिर भी 100 से अधिक शिक्षक हो चुके हैं इधर से उधर

डीएसई बृजमोहन कुमार ने भास्कर को बताया कि प्राथमिक शिक्षा निदेशालय के आदेश का पालन करना उनका दायित्व है। उनके...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:55 PM IST
डीएसई बृजमोहन कुमार ने भास्कर को बताया कि प्राथमिक शिक्षा निदेशालय के आदेश का पालन करना उनका दायित्व है। उनके द्वारा जिन 19 शिक्षकों के वेतन भुगतान के आदेश दिए गए है उन सभी का प्रतिनियोजन विशेष परिस्थिति में किया गया है। यह पूछे जाने पर कि जिले में कुल कितने प्राथमिक शिक्षकों का प्रतिनियोजन किया गया है? वे जवाब नहीं दे सके। उन्होंने प्रतिनियोजन के संबंध में कहा कि चूंकि वरीय अधिकारियों द्वारा भी प्रतिनियोजन किया जा रहा है ऐसे में वे कुछ नहीं कह पाएंगे। इधर जिला शिक्षा पदाधिकारी मीना राय ने बताया कि उनके स्तर से जो प्रतिनियोजन किया गया है वह मैट्रिक परीक्षा को ध्यान में रखकर किया गया है। क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक रामयतन राम ने बताया कि उनके पास कोई प्रतिवेदन डीएसई स्तर से नहीं उपलब्ध कराया गया है।

निदेशालय की ओर से क्या है आदेश

झारखंड सरकार के प्रधान सचिव (स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग) के आदेश में स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि संचिका के माध्यम से कोई प्रतिनियोजन नहीं किया जाएगा। मात्र जिला स्थापना समिति की बैठक में ही प्रतिनियोजन का निर्णय लिया जा सकेगा। इस संबंध में एक नयी नीति तैयार की जा रही है। नीति बनने तक प्रतिनियोजन पर रोक रहेगा। वहीं प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने भी सभी जिला शिक्षा अधीक्षक को आदेश दिया है कि प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों का स्थानांतरण व प्रतिनियोजन के लिए नयी नियमावली का गठन प्रक्रियाधीन है। बावजूद इसके जिले में धड़ल्ले से शिक्षकों का प्रतिनियोजन येन केन प्रकारेण किया जा रहा है। प्राथमिक शिक्षा निदेशक मीना ठाकुर ने भी अपने आदेश में इस बात का उल्लेख किया है कि प्राय: देखा जा रहा है जिला शिक्षा अधीक्षक अपने जिला में सुविधानुसार अथवा अपरिहार्य कारणों से प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों का स्थानांतरण व प्रतिनियोजन करते रहते है जिससे अनावश्यक रूप से शैक्षणिक कार्याें के सुचारू रूप से संचालन में बाधा होती है।

किन शिक्षकों का हुआ है प्रतिनियोजन

27 जनवरी को 2018 के आदेश में डीएसई बृजमोहन कुमार ने प्रतिनियोजित 19 शिक्षकों के प्रतिनियोजन को वैध ठहराते हुए वेतन भुगतान का आदेश दिया है। वहीं जिला शिक्षा पदाधिकारी के आदेश से पड़वा लामी पतरा के शिक्षक विशाल सिंह का प्रतिनियोजन स्तरोन्नत उच्च विद्यालय सिंगरा में किया गया है। डीईईओ द्वारा ही लेस्लीगंज तुर्काडीह के शिक्षक विजय कुमार सिंह को राजकीय प्लस टू उच्च विद्यालय में स्थानांतरित किया गया है। प्रतिनियोजन के पीछे शिक्षक की अस्वस्थता बताई गई है। जबकि प्लस टू विद्यालय में पहले से भी अंग्रेजी के शिक्षक प्रतिनियुक्त हैं। इसी तरह हुसैनाबाद राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय के शिक्षक सैयद नैयरूल इस्लाम का प्रतिनियोजन जिला स्कूल में विशेष परिस्थिति में किया गया है। आरडीडीई द्वारा ही पड़वा के दुलही राजकीय कृत मध्यम विद्यालय की शिक्षिका कुमारी संगीता सिंह का प्रतिनियोजन राजकीय कृत उच्च विद्यालय लामी पतरा में किया गया है। इधर सदर प्रखंड में एनपीएस नावाटीकर चुकरू विद्यालय शिक्षकों की कमी के कारण बंद है। सदर प्रखंड में ही यूएसएस पत्थरचट्टी भी बंद है। इन स्कूलों के शिक्षकों का भी प्रतिनियोजन प्रखंड स्तर से किया गया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..