Hindi News »Jharkhand »Medininagar» बैंक लूट मामले में पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

बैंक लूट मामले में पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ

आईसीआईसीआई बैंक के कस्टोडियन सीएमएस के गार्ड व अधिकारी से 54 लाख लूट के मामले में पांच लोगों को हिरासत में लेकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 17, 2018, 03:10 AM IST

बैंक लूट मामले में पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ
आईसीआईसीआई बैंक के कस्टोडियन सीएमएस के गार्ड व अधिकारी से 54 लाख लूट के मामले में पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। प्रथम दृष्टया अनुसंधान में बैंक प्रबंधन व सीएमएस कर्मी के स्तर से घोर लापरवाही के सबूत मिले हैं। जो बैंक कर्मियों को भी संदेह के घेर में लाकर खड़ा कर रहा है। पलामू एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि सीएमएस के एसपी रैंक के दो अधिकारी कोलकाता व जमशेदपुर से पहुंचे हैं। उन दाेनों अधिकारियों ने भी स्वीकार किया है कि सीएमएस के नॉर्म्स के विरुद्ध जाकर एटीएम पैसा डालने का काम किया जा रहा था, जो समझ से परे है। इधर बैंक कस्टोडियन रौशन लाल व गनमैन जीतेन्द्र कुमार के बयान भी परस्पर विरोधी है, जो संदेह पैदा करता है।

एक घंटा बाद पुलिस को बैंक के द्वारा सूचना दिया जाना स्थिति को और भी संदेहास्पद बना देती है। यहीं कारण है कि शनिवार को पांच बार डीएसपी प्रेमनाथ व प्रशिक्षु डीएसपी चंद्रशेखर आजाद घटना स्थल और बैंक के आसपास कई लोगों से पूछताछ की। घटना स्थल के पास सीसीटीवी फुटेज से भी बाइक में धक्का मारने की बात पुष्टि नहीं हो पा रही है। आसपास के दुकानदार भी चश्मदीद के तौर पर सामने नहीं आए है। एसपी महथा ने बताया कि बैंक कस्टोडियन रौशन लाल का यह बयान कि वह अपराधियों की बाइक से पीछा किया संतोषजनक नहीं है। जबकि गनमैन उनके साथ था और वहीं चुपचाप खड़ा रहा।

पल्सर की पहचान करने में जुटी पुलिस

जिस पलसर का इस्तेमाल हुआ है वह पलसर नई है। इसलिए पुलिस 15 दिन के अंदर खरीदे गए सभी पलसर का लेखा जोखा देख रही है। पुलिस मामले में शामिल अपराधी की पहचान कर लिया है। जो फुटेज मिले हैं उस फुटेज के आधार पर पुलिस अपराधियों की तस्वीर सार्वजनिक कर उस पर इनाम की घोषणा करेगी। दो अपराधी का चेहरा स्पष्ट है। इन दोनों से संबंधित जानकारी उपलब्ध करने के लिए पुलिस अबतक दर्जन भर लोगों से संबंधित कुछेक जगहों पर फोटो दिखाकर पूछताछ भी कर रही है। पुलिस को उम्मीद है की जल्द ही इन दोनों की पहचान आम नागरिकों के सहयोग से सार्वजनिक होगी।

मेदिनीनगर में आईसीआईसी बैंक।

फुटेज खंगालने में जुटी है पुलिस

लूट मामले के उदभेदन के लिए पुलिस शनिवार को भी कई सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है। इस मामले में पुलिस का तकनीकी सेल भी लगा हुआ है। डीएसपी प्रेमनाथ, डीएसपी सुरजीत, डीएसपी चंद्रशेखर आजाद, थाना प्रभारी तरुण कुमार समेत पुलिस के कई चुनिंदा अधिकारी मामले की उदभेदन में जुटे हैं।

आईसीआईसीआई बैंक प्रबंधक से होगी पूछताछ

एसपी महथा ने बताया कि आईसीआईसीआई बैंक प्रबंधक से भी पूछताछ की जाएगी। इसके लिए प्रश्नावली तैयार की जा रही है। इसमें उनसे यह पूछा जाएगा कि सुरक्षा मानको के विपरीत किन परिस्थितियों में इतनी बड़ी रकम बैंक कस्टोडियन व गार्ड को दिए गए?, इतनी बडी रकम अलग रूम में हैंडओवर किया जाता है जबकि इस मामले में ऐसा नहीं हुआ। पैसा देते कई ग्राहकों ने देखा।, बैंक कस्टोडियन किसी दूसरे व्यक्ति की बाइक का इस्तेमाल क्यों किए?, पैसा ले जाने के लिए जिस बाइक का इस्तेमाल किया गया उसकी भनक अपराधियों को कैसे लगी?, अपराधियों के वाहन उनके वाहन के पास ही क्यों लगा रहा? इसके अलावा बैंक प्रबंधन सुरक्षा मानकों के अनुरूप लोहे के बक्से में राशि देने का प्रावधान है जबकि यहां बैग का इस्तेमाल किया गया। प्रश्नावली का जवाब संतोषजनक नहीं मिलने पर आईसीआईसीआई के बड़े अधिकारियों से पूछताछ की जा सकती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×