--Advertisement--

बाल सुधार गृह के सचिव को लगाई कड़ी फटकार

मेदिनीनगर | बाल संरक्षण आयोग की टीम ने शुक्रवार को बाल सुधार गृह का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान संस्था के...

Dainik Bhaskar

Jul 28, 2018, 03:10 AM IST
मेदिनीनगर | बाल संरक्षण आयोग की टीम ने शुक्रवार को बाल सुधार गृह का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान संस्था के सचिव को दो पद पर काम करने के कारण कहा कि यह तो गंभीर मामला है। इस पर तो आप पर प्राथमिकी दर्ज की जा सकती है। आप यह निश्चय कर लें कि आपको संस्था का काम करना है या बालगृह के सुपरिटेंडेंट का काम करना है। बाल गृह में काम कर रहे काउंसिलर के बारे में भी कहा कि इसके लिए यह कैपेबल नहीं है। आप नए सिरे से वैकेंसी निकाल कर बहाली कीजिए।

आयोग ने बन रहे खाना को भी देखा और कहा कि खाना में सुधार कीजिए नहीं तो रिपोर्ट होने पर आपसे सरकार बालगृह नहीं चलवाएगी। आयोग के सदस्य भूपेंद्र साहू ने कहा कि कैंपस में कहीं भी सीसीटीवी नहीं है, इसे तत्काल लगाएं। वहीं डीएसई सुशील कुमार को निर्देश दिया कि जो बच्चे पढ़ने वाले हैं उसके एडमिशन की व्यवस्था कीजिए।

आयोग की टीम ने स्टेशन रोड में चल रहे मिशनरी ऑफ चैरिटी संस्था का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सिस्टर से पूछा कि बच्चे कहां से लाए गए हैं। जानकारी नहीं होने पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि सभी बच्चों की फाइल तैयार कीजिए। उसके बाद रिपोर्ट कीजिए। फंड के बारे में जब पूछा गया तो मिशनरीज के लोगों ने बताया कि फंड हम लोगों को हेड ऑफिस से आता है। वही संस्था के लोगों ने बताया कि यहां 4 महीना से लेकर 2 साल तक के बच्चों को रखा जाता है। आयोग के सदस्यों ने संस्था को आदेश दिया कि आप लोगों को सीडब्ल्यूसी के लिए एक रूम उपलब्ध कराना होगा। जहां वे लोग आकर इस संस्था का निरीक्षण करेंगे और आपके बारे में रिपोर्ट तैयार करेंगे। आयोग ने विशेष दत्तक गृह को बदलने का आदेश दिया आयोग ने कहा कि यह जेजे एक्ट के तहत नहीं चल रहा है। आयोग ने स्टाफ की बहाली के संबंध में भी सवाल उठाया।

आयोग की टीम ने आखिर में नि:शक्त स्कूल का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान वहां रह रहे लड़कियों को कस्तूरबा विद्यालय में नामांकन कराने का निर्देश डीएससी सुशील कुमार को दिया। उन्होंने कहा कि जो बच्चियां पढ़ना चाहती है। उसे तत्काल कस्तूरबा विद्यालय में प्रवेश कराया जाए। निरीक्षण के दौरान आयोग के सदस्य राजा दुबे, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी कुमारी रंजना, डीपीएम प्रवीण सिंह, डीपीआरओ प्रकाश कुमार, केडी पासवान व सीडब्ल्यूसी के सभी सदस्य उपस्थित थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..