--Advertisement--

चिकित्सकों और एएनएम में खर्च का ब्योरा स्पष्ट करें

मेदिनीनगर | जिला परिषद कार्यालय में जिला स्वास्थ्य, वन एवं पर्यावरण समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसकी...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 03:25 AM IST
मेदिनीनगर | जिला परिषद कार्यालय में जिला स्वास्थ्य, वन एवं पर्यावरण समिति के पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता उप स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष सह जिला परिषद सदस्य रेणु देवी ने की। बैठक में स्वास्थ्य विभाग, वन पर्यावरण एवं शिक्षा विभाग के संबंधित पूर्व की बैठक में लिए गए निर्णय एवं किए गए कार्रवाई की समीक्षा की गई। बैठक में अनुज राम ने जिले के सभी स्वास्थ्य उपकेंद्रों में चिकित्सकों का पदस्थापन एवं एएनएम के पदस्थापना में खर्च का ब्योरा स्पष्ट करने की बात कही गयी। उल्लेखनीय है किस भी उप स्वास्थ्य केन्द्रों में पदस्थापित स्टॉफ एवं नर्स की सूची तथा मोबाइल नंबर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया था। उप केंद्रों में खर्च किए जाने वाले राशि का भी ब्योरा मांगा गया। वहीं बैठक में प्रत्येक प्रखंड में ममता वाहन की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश अध्यक्ष द्वारा दिया गया। इस पर डीपीओ ने बताया कि जिले में 150 ममता वाहन उपलब्ध हैं जबकि 500 ममता वाहन की आवश्यकता है। डीपीएम ने बताया कि इमरजेंसी दवा, साफ सफाई एवं वाहन पर खर्च करने का अधिकार एएनएम को है जो 10 हजार रुपए तक सालाना खर्च करती है। 20 हजार रुपए वार्षिक खर्च मरम्मत पर करना है जो किया जा रहा है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..