Hindi News »Jharkhand »Medininagar» बैंकों ने लक्ष्य का दो प्रतिशत से भी कम कर्ज बांटा, नाराजगी

बैंकों ने लक्ष्य का दो प्रतिशत से भी कम कर्ज बांटा, नाराजगी

जिला स्तरीय बैंकर्स की समीक्षा बैठक बुधवार को डीसी अमीत कुमार की अध्यक्षता में डीआरडीए सभागार में हुई। बैठक में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 05, 2018, 03:30 AM IST

बैंकों ने लक्ष्य का दो प्रतिशत से भी कम कर्ज बांटा, नाराजगी
जिला स्तरीय बैंकर्स की समीक्षा बैठक बुधवार को डीसी अमीत कुमार की अध्यक्षता में डीआरडीए सभागार में हुई। बैठक में केसीसी लोन, प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना, एवं अटल पेंशन योजना की उपलब्धियों पर समीक्षा की गई। वहीं प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत दिए गए ऋण एवं राष्ट्रीय ग्रामीण शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत ऋण की प्रगति की भी समीक्षा की गई। डीसी ने सभी बैंकर्स को सरकारी गाइड लाइन के अनुरूप काम करने का निर्देश दिया। समीक्षा के दौरान एक्सिस, एचडीएफसी ,इंडियन ओवरसीज बैंक के द्वारा केसीसी ऋण योजना के तहत लक्ष्य के विरुद्ध मात्र 1 से 2% ऋण बांटने पर सांसद विष्णु दयाल राम व छतरपुर विधायक राधा कृष्ण किशोर ने बैंकर्स पर काफी नाराजगी जाहिर की। सांसद राम ने विभिन्न प्रकार के ऋण वितरण हेतु बैंकों को विभिन्न जगहों पर प्रचार प्रसार करने हेतु सुझाव दिया। उन्होंने बैंकर्स को यह भी बताया कि किसान चैनल से भी विभिन्न बैंकिंग प्रणाली से जुड़ी हुई योजनाओं का प्रचार प्रसार करें ,ताकि सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से लोग जुड़ सकें ।उन्होंने कहा कि सिर्फ पैसे की लेनदेन तक ही सीमित ना रहे बल्कि जरूरतमंद लोगों को प्राथमिकता के आधार पर ऋण भी मुहैया करवाएं। जहां केसीसी में लक्ष्य के विरुद्ध अचीवमेंट शून्य था वही माइक्रो इंटरप्राइजेज में लक्ष्य से भी अधिक का ऋण वितरण किए जाने पर विभिन्न बैंकों यथा इंडियन ओवरसीज,एक्सिस के शाखा प्रबंधक को चेतावनी दी गई। सांसद ने कहा कि इस प्रकार की गलती दोबारा होने पर वित्तीय अनुशासन हीनता मानते हुए कार्रवाई की जाएगी। पिपरा, रामगढ़, उंटारी रोड एवं नौडीहा बाज़ार में एक भी बैंक नहीं होने के कारण वहां के लोगों को हो रही परेशानियों को देखते हुए उक्त स्थान पर बैंक खुलवाने हेतु भी चर्चा की गई। सांसद राम ने बताया कि केंद्र एवं राज्य सरकार की मंशा है की स्टार्टअप इंडिया स्टैंडअप इंडिया जैसी योजनाओं का लाभ नौजवान एवं बेरोजगारों को मिले परंतु बैंक की मनमानी के कारण इस योजनाओं के लाभ सही एवं जरूरतमंद लोगों तक नहीं पहुंच पा रही है।उन्होंने कहा कि इस प्रकार की शिकायत हरगिज़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मौके पर जिला परिषद अध्यक्ष ,जिला अग्रणी बैंक, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया, रांची के पदाधिकारी क्षेत्रीय प्रबंधक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, डालटनगंज तथा विभिन्न बैंकों से आये हुए शाखा प्रबंधक समेत बैंककर्मी उपस्थित थे।

सांसद वीडी राम, विधायक राधाकृष्ण किशोर, डीसी अमीत कुमार व अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×