Home | Jharkhand | Medininagar | एनपीवीवी की एकेडमिक काउंसिल की बैठक में एमफिल का कोर्स शुरू करने का लिया गया निर्णय

एनपीवीवी की एकेडमिक काउंसिल की बैठक में एमफिल का कोर्स शुरू करने का लिया गया निर्णय

नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय के एकेडमिक काउंसिल की बैठक गुरुवार को पूर्वाह्न 11 बजे से योध सिंह नामधारी महिला...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 15, 2018, 03:30 AM IST

एनपीवीवी की एकेडमिक काउंसिल की बैठक में एमफिल का कोर्स शुरू करने का लिया गया निर्णय
एनपीवीवी की एकेडमिक काउंसिल की बैठक में एमफिल का कोर्स शुरू करने का लिया गया निर्णय
नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय के एकेडमिक काउंसिल की बैठक गुरुवार को पूर्वाह्न 11 बजे से योध सिंह नामधारी महिला महाविद्यालय के रूसा सेल में कुलपति प्रोफेसर डॉक्टर सत्येंद्र नारायण सिंह की अध्यक्षता में हुई। बैठक में नवनियुक्त प्रति कुलपति प्रोफेसर डॉक्टर पवन कुमार पोद्दार का कुलपति व सभी सदस्यों ने स्वागत किया।

बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय में एमफिल कोर्स के लिए आधारभूत संरचना की उपलब्धता के आधार पर सत्र 2019 20 से प्रारंभ किया जाए। डिपार्टमेंट ऑफ एजुकेशन प्रारंभ करने के लिए उच्च व तकनीकी शिक्षा विभाग को अनुरोध स्मार पत्र भेजने का निर्णय लिया गया। साथ ही जीएलए कॉलेज में एम एड कोर्स प्रारंभ करने के लिए आवश्यक प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया गया।

रांची विवि के रेगुलेशन व सिलेबस को किया अंगीकृत : स्नातक स्तर पर सीबीसीएस पाठ्यक्रम लागू करने हेतु रांची विश्वविद्यालय के रेगुलेशन एवं सिलेबस को अंगीकृत किया गया साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि यदि विभागाध्यक्ष चाहे तो स्थानीय स्थिति एवं वर्तमान परिवेश के अनुरूप पाठ्यक्रम में आवश्यक बदलाव के लिए सुझाव दे सकते हैं।

पीएच डी की सीटों की संख्या में वृद्धि : पीएचडी उपाधि के लिए छात्रों की अधिक संख्या को देखते हुए सुपरवाइजर हेतु निर्धारित अधिकतम सीटों की संख्या में वृद्धि करने का निर्णय लिया गया जिसके अनुसार असिस्टेंट प्रोफेसर के अंतर्गत 4 सीट से बढ़ाकर 6 सीट, एसोसिएट प्रोफेसर के अंतर्गत 6 सीट से बढ़ाकर 8 सीट व प्रोफेसर के अंतर्गत 8 सीट से बढ़ाकर 10 सीट पीएचडी छात्रों का किया गया। ज्ञात हो कि रांची यूनिवर्सिटी में भी इसी प्रकार पीएचडी सुपरवाइजर के अंतर्गत अधिकतम सीटें बढ़ाई गई है।

डिप्लोमा इन योगा खोलने पर किया मंथन : विश्वविद्यालय अंतर्गत डिप्लोमा इन योगा एंड मोरल एजुकेशन पाठ्यक्रम को ऐड ऑन कोर्स के रूप में प्रारंभ करने पर विचार एवं सुझाव हेतु एक समिति का गठन किया गया। राज्य सरकार द्वारा खोले जाने वाले विभिन्न सरकारी डिग्री कॉलेजों हेतु प्रस्तावित पाठ्यक्रमों की स्वीकृति प्रदान की गई

राज्य सरकार से प्राप्त पत्र के आलोक में वाणिज्य विषय से बीएड करने वाले छात्रों को सामाजिक विज्ञान अथवा भाषा शिक्षक के रूप में मान्यता देने के संबंध में विचार एवं मंतव्य देने हेतु प्रतिकुलपति की अध्यक्षता में एक समिति बनाई गई इसमें सभी संकाय अध्यक्ष सदस्य के रूप में रहेंगे।

योध सिंह महिला कॉलेज में बैठक करते वीसी व अन्य।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now