• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • नेटवर्क ढूंढते पहुंच जाते हैं एक किमी, फिर वापस आ लेते हैं अनाज
--Advertisement--

नेटवर्क ढूंढते पहुंच जाते हैं एक किमी, फिर वापस आ लेते हैं अनाज

सतबरवा | बारी पंचायत के रजडेरवा के जन वितरण प्रणाली दुकानदार लक्ष्मी स्वयं सहायता समूह नेटवर्क ढूंढते -ढूंढते...

Dainik Bhaskar

Jul 01, 2018, 03:30 AM IST
नेटवर्क ढूंढते पहुंच जाते हैं एक किमी, फिर वापस आ लेते हैं अनाज
सतबरवा | बारी पंचायत के रजडेरवा के जन वितरण प्रणाली दुकानदार लक्ष्मी स्वयं सहायता समूह नेटवर्क ढूंढते -ढूंढते पहुंच गए एक किलोमीटर दूर रांची-मेदिनीनगर मुख्य मार्ग पोची पंचायत, ताबर गांव के शाहगंज टोले में। नेटवर्क मिलते ही मुख्य मार्ग किनारे पेड़ के नीचे दुकान खोल दिया। डीलर के पुत्र ने पॉश मशीन निकाली और कार्डधारियों से धड़ाधड़ अंगूठा लगवाना शुरू किया। अब अंगूठा लगाया शाहगंज में लेकिन सामान लेने फिर रजडेरवा जाना होगा। इसे लेकर कार्डधारी सारो देवी, संगीता देवी, बसंती कुंवर, सरिता देवी, मीना देवी, सुरजी देवी, सविता देवी समेत दर्जनों लोगों ने कहा कि पहले रजडेरवा दुकान पर गए थे। इसके बाद पता चला कि एक किलोमीटर दूर ताबर गांव के शाहगंज में अंगूठा लगवाया जा रहा है। पुर वहां पहुंचे और वापस रजडेरवा आकर राशन ली। बसंती कुंवर ने कहा कि इस बुढ़ापे में दो-तीन बार यहां से वहां दौड़ना पड़ रहा है। काफी परेशानी हो रही है। सड़क दुर्घटना का भी डर बना हुआ है।

X
नेटवर्क ढूंढते पहुंच जाते हैं एक किमी, फिर वापस आ लेते हैं अनाज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..