Hindi News »Jharkhand »Medininagar» एएसआई के तीन पुत्र एक साथ बने दारोगा

एएसआई के तीन पुत्र एक साथ बने दारोगा

हनुमान नगर मुहल्ले के तीन भाइयों ने दारोगा परीक्षा में एक साथ सफल होकर मिसाल कायम किया है। एएसआई अगस्त दूबे के तीन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 01, 2018, 03:30 AM IST

हनुमान नगर मुहल्ले के तीन भाइयों ने दारोगा परीक्षा में एक साथ सफल होकर मिसाल कायम किया है। एएसआई अगस्त दूबे के तीन पुत्र नितेश दूबे, विकेश दूबे और ऋषिकेश दूबे ने दारोगा परीक्षा में सफलता अर्जित कर साबित कर दिया कि नियमित अध्ययन ही सफलता का मंत्र है। इस संबंध में ऋषिकेश कुमार दूबे ने बताया कि वे 2017 में बीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण कर इस परीक्षा में बैठे थे। इसमें पहले ही प्रयास में उन्हें सफलता मिली। जबकि उनके बड़े भाई नितेश दूबे नेता जी सुभाषचंद्र बोस इंजीनियरिंग कॉलेज कोलकाता से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन से बीटेक कर नौकरी की तलाश में थे। वहीं उनके मंझले भाई विकेश दूबे विनोबा भावे विश्वविद्यालय से मेकेनिकल इंजीनियरिंग पास कर तैयारी में जुटे थे। तीनों भाइयों की इच्छा सरकारी नौकरी की थी। इसी क्रम में 2017 में दारोगा की परीक्षा का विज्ञापन आया। तीनों भाइयों ने परीक्षा फार्म भरा। तीनों भाई पीटी, मेंस व शारीरिक परीक्षा में पास करते गए। अब उन्हें ट्रेनिंग के लिए जाना है। उनकी सफलता पर उनके मां-बाप काफी खुश हैं। उन तीनों के पिता अगस्त दूबे ने कहा कि उन्हें गर्व है कि उनके बेटे अपने पैरों पर खड़ा हो गया। इधर डॉ. ए अंसारी के भाई प्यारे हसन ने भी दारोगा परीक्षा में सफलता पाई है। चयन पर उनके गांव पोखराहा में खुशी का माहौल है। उल्लेखनीय है कि प्यारे हसन यूपीएससी की पीटी परीक्षा पास कर चुके हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×