• Home
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • डॉ. वीरेंद्र इलाहाबाद विवि में बने प्रोफेसर, मिला सम्मान
--Advertisement--

डॉ. वीरेंद्र इलाहाबाद विवि में बने प्रोफेसर, मिला सम्मान

संत मरियम स्कूल के प्रांगण में जीएलए कॉलेज के हिंदी के प्राध्यापक डॉक्टर कुमार वीरेंद्र के इलाहाबाद केंद्रीय...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 03:30 AM IST
संत मरियम स्कूल के प्रांगण में जीएलए कॉलेज के हिंदी के प्राध्यापक डॉक्टर कुमार वीरेंद्र के इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर चयन होने पर सम्मान समारोह का अायोजन किया गया। मौके पर विद्यालय के निदेशक अविनाश देव, प्राचार्य कुमार आदर्श, उप प्राचार्य एसबी साहा मौजूद थे। विद्यालय के निदेशक ने डॉक्टर वीरेंद्र को शॉल, फलदार पौधा देकर सम्मानित किया। सम्मान समारोह में विद्यालय के निदेशक अविनाश देव ने कहा कि वर्तमान समय में डॉक्टर वीरेंद्र जैसे गुरु की ही आवश्यकता है। आज उन्होंने अपनी प्रतिभा के सहारे शिक्षा के क्षेत्र में एक नई रोशनी जगाई। उन्होंने कहा कि साहित्य और समाज से डॉ. वीरेंद्र का अटूट संबंध है। जहां भी ये रहेंगे अपनी नवीन प्रतिभा और लोकप्रियता की छवि बिखेरते रहेंगे। पलामू उनका सदैव ऋणी रहेगा। मुख्य अतिथि डॉक्टर वीरेंद्र ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थी में विनम्रता, आज्ञाकारिता, परिश्रमशीलता, सत्यनिष्ठा, संभाव्यता तथा संयम जैसे गुणों का होना भी आवश्यक है। इन गुणों के सहारे बच्चे महानतम पद को सहज ही प्राप्त कर लेंगे। फलदार और हरे पौधे से सीख लेने की भी प्रेरणा दी। उन्होंने यह भी कहा कि पलामू प्रमंडल का यह पहला विद्यालय है, जहां बच्चों को शिक्षा के साथ दीक्षा और संस्कार भी दिए जाते हैं। पलामू में मुझे मान सम्मान तथा स्नेह-प्रेम जो मिला वह अविश्मरणीय रहेगा।

इस अवसर पर पीआर तिवारी, एसए रहमान, रौशन राज, एसके साहा, अमित ज्योति, राघवेंद्र, सुधा, निवेदिता पांडेय सहित कई लोग उपस्थित थे। इधर कुमार वीरेंद्र को परिसदन में पत्रकार परिषद ने भी विदाई दी। मौके पर पत्रकार परिषद से जुड़े वक्ताओं ने कहा कि कुमार वीरेंद्र की पहचान प्रखर साहित्यकार व प्राध्यापक के रूप में रही है। वे सदैव पठन पाठन से जुड़े रहे। केंद्रीय विश्वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर उनका चयन उनकी योग्यता को नया आयाम देता है। वहीं महिंद्रा आर्केड में भी कुमार वीरेंद्र के एसोसिएट प्रोफेसर बनने का पत्रकारों ने सम्मानित किया।