मेदिनीनगर

--Advertisement--

गांव जाकर पुलिस समझा रही-कैसे बचें साइबर क्राइम से

पलामू पुलिस इन दिनों साइबर क्राइम से निपटने के लिए जागरूकता अभियान चला रही है। इस बारे में पलामू के एसपी इंद्रजीत...

Dainik Bhaskar

Jul 23, 2018, 03:30 AM IST
पलामू पुलिस इन दिनों साइबर क्राइम से निपटने के लिए जागरूकता अभियान चला रही है। इस बारे में पलामू के एसपी इंद्रजीत महथा द्वारा सभी थाना प्रभारी और टीओपी को निर्देश दिया गया है कि जिस तरह से समाज में साइबर अपराधियों द्वारा लोगों को ठगने का काम किया जा रहा है। उससे लोगों को बचाने के लिए लोगों को जागरुक किया जाए। इसके लिए सभी थाना के थाना प्रभारी व एएसआई के द्वारा गांव-गांव में जाकर लोगों को समझाने का काम किया जा रहा है तथा पुलिस के द्वारा अपने अपने क्षेत्र के स्कूलों में भी जाकर छात्रों को बताया जा रहा है कि फर्जी कॉल की पहचान कर पुलिस को सूचना दें, ताकि उस पर कार्रवाई की जा सके। इस संबंध में पुलिस परचा के माध्यम से लोगों को जागरुक कर रही है।

जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को बताया जा रहा है कि अपने एटीएम कार्ड का नंबर वैलिडिटी डेट बैंक से प्राप्त ओटीपी किसी के साथ शेयर ना करें। यह भी बताया जा रहा है कि अगर कोई फोन करके बोले कि आप का एटीएम ब्लॉक हो गया है या आपके खाते को आधार कार्ड से लिंक करना है, तो इस बारे में कोई जानकारी किसी को ना दे। अगर किसी प्रकार का कॉल आए तो तत्काल बैंक के शाखा से जाकर संपर्क करना चाहिए। लोगों को यह भी बताया जा रहा है यदि आप अपने एटीएम से पैसा निकाल रहे हैं तो उस समय किसी अनजान व्यक्ति को एटीएम के अंदर प्रवेश न करने दें तथा अपना पासवर्ड छुपाकर अंकित करें। यदि आप का एटीएम जमीन पर गिर जाए तो अपना एटीएम कार्ड दूसरे को उठाने ना दें। नहीं तो वह कार्ड को बदल सकता है। लोगों को इस बात की भी जानकारी दी जा रही है कि कार्ड स्वैप मशीन का उपयोग स्वयं करें।

लोगों को यह भी जानकारी दी जा रही है कि यदि कोई आपको फर्जी लॉटरी लगाने का या टावर लगाने के लिए बोले तो उस के चक्कर में ना पड़ें। गांव में जाकर लोगों को इस बात की जानकारी दी जा रही है कि कोई व्यक्ति अगर जेवर चमकाने के नाम पर या चिटफंड कंपनी के द्वारा दी जाने वाली लालच से भी लोगों को बचना चाहिए तथा इस संबंध में पुलिस को सूचना दें।

X
Click to listen..