• Hindi News
  • Jharkhand
  • Medininagar
  • बोरिंग और कुआं सूखे, दस फीसदी लोगों को ही मिल रहा सप्लाई का पानी
--Advertisement--

बोरिंग और कुआं सूखे, दस फीसदी लोगों को ही मिल रहा सप्लाई का पानी

Medininagar News - मेदिनीनगर में वार्ड नं्बर 02 में टैंकर से पानी लेने को लगी कतार। फेज टू योजना के लिए दुबारा हुआ टेंडर पानी...

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2018, 03:35 AM IST
बोरिंग और कुआं सूखे, दस फीसदी लोगों को ही मिल रहा सप्लाई का पानी
मेदिनीनगर में वार्ड नं्बर 02 में टैंकर से पानी लेने को लगी कतार।

फेज टू योजना के लिए दुबारा हुआ टेंडर

पानी आपूर्ति के लिए फेज टू योजना की स्वीकृति 17 मार्च 2015 को दी गई थी। करीब 61 करोड़ 46 लाख की लागत से यह योजना पूरी करनी थी। यह काम एसएमएस पर्यावरण लिमिटेड द्वारा किया जा रहा था। 12 करोड़ रुपया कंपनी के नाम आवंटित भी कर दिया गया था। संवेदक द्वारा काम के प्रति उदासीन रवैये के कारण पेयजल स्वच्छता विभाग ने इकरारनामा रद्द कर रि टेंडर कराया है। अब देखना है कि फेट टू का काम कब तक पूरा होता है। इसके तहत शहर के 32 किलोमीटर तक पाइप लाइन और सात जलमीनार बनाया जाना था। ऐसे में शहरवासी के समक्ष पेयजल संकट बरकरार है।

रोजाना चाहिए 10 लाख गैलन पानी

शहरी जलापूर्ति योजना के तहत शहरवासियों को रोजाना 10 लाख गैलन पानी की जरूरत है मगर फिलहाल रोजाना औसतन डेढ़ लाख गैलन पानी भी नहीं मिल रहा। आज निगम की जनसंख्या 1 लाख 59 लाख पहुंच गई है, जिसमें 15 गांव भी जोड़ लिए गए हैं। ऐसे में नए इलाकों में पाइप लाइन बिछाना भी एक चुनौती है। अभी पूर्व के नगर पालिका क्षेत्र के लोगों को ही पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में नगरवासी काफी असंतुष्ट है। पेयजल स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता अजय सिंह ने बताया कि बिजली रहने के बाद विभाग की कोशिश होती है कि वे शहरवासियों को पर्याप्त पानी उपलब्ध करा दें।

X
बोरिंग और कुआं सूखे, दस फीसदी लोगों को ही मिल रहा सप्लाई का पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..