• Hindi News
  • Jharkhand
  • Medininagar
  • डुमरी पंचायत के जसपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय में नहीं है हैंडपंप
--Advertisement--

डुमरी पंचायत के जसपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय में नहीं है हैंडपंप

Medininagar News - मनातू प्रखंड के डुमरी पंचायत के जसपुर गांव के मध्य विद्यालय में पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं है। स्कूल के शिक्षक व...

Dainik Bhaskar

Jun 22, 2018, 03:35 AM IST
डुमरी पंचायत के जसपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय में नहीं है हैंडपंप
मनातू प्रखंड के डुमरी पंचायत के जसपुर गांव के मध्य विद्यालय में पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं है। स्कूल के शिक्षक व गांव के ग्रामीणों ने उक्त स्कूल परिसर में हैंडपंप के लिए कई बार उच्चाधिकारियों को लिखित आवेदन दिया। मगर आज तक स्कूल में जिला प्रशासन द्वारा पानी के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई। आज भी जसपुर मवि के बच्चे पास के नदी के दूषित पानी पीते हैं। यही नहीं नदी के दूषित पानी से बच्चों का निवाला बनाया जाता है। कई बार तो बच्चे नदी का दूषित पानी पीकर बीमार भी पड़ जाते हैं। इसके बावजूद बच्चों की सेहत पर किसी अधिकारी का ध्यान नहीं है।

जसपुर मवि में 113 बच्चे नामांकित हैं। स्कूल में पानी की व्यवस्था नहीं रहने के कारण नदी का दूषित पानी स्कूल के बच्चे पीते हैं। स्कूल के शिक्षकों ने बताया कि रसोइया गांव के एक निजी हैंडपंप से पानी लाकर खाना बनाते हैं। हैंडपंप से पानी रोकने की स्थिति में नदी के दूषित पानी से बच्चों का निवाला बनाया जाता है। साथ ही बच्चे भी नदी के दूषित पानी पीने को विवश हैं। बच्चों व गांव के कई ग्रामीणों ने बताया कि गांव में एक भी सरकारी हैंडपंप नहीं है। ऐसे में गांव के लोग नदी के दूषित हो पीने को विवश हैं। स्कूल के सचिव वीरेंद्र प्रताप साहू ने बताया कि स्कूल में पानी की घोर समस्या है। नदी के दूषित पानी बच्चे पीते हैं।

नदी के दूषित पानी से बनता है मिड डे मील, उसी पानी को पीते हैं स्कूल के बच्चे

मनातू में नदी का दूषित पानी पीते स्कूली बच्चे व अन्य लोग।

मनातू प्रखंड के जसपुर मवि का स्थापना 2003 में हुआ था। स्कूल में दो शिक्षक वीरेंद्र प्रताप साहू व पप्पू कुमार पासवान पदस्थापित हैं। स्कूल का दो-दो बिल्डिंग भवन बना है मगर आज तक हैंडपंप नहीं लगाया गया। स्कूल के शिक्षक द्वारा कई बार विभाग को लिखित आवेदन दिया गया। मगर आज तक किसी पदाधिकारी ने इस पर कोई पहल नहीं किया। जसपुर मवि में प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम के तहत शिविर आयोजित की गई थी। उस समय मनातू बीडीओ ने स्कूल में हैंडपंप लगाने का आश्वासन दिया था। लेकिन कई महीना बीत जाने के बाद भी आज तक स्कूल में हैंडपंप नहीं लगाया गया।

2003 में हुई थी स्कूल की स्थापना

X
डुमरी पंचायत के जसपुर उत्क्रमित मध्य विद्यालय में नहीं है हैंडपंप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..