--Advertisement--

सर्टिफिकेट अब होगा आन लाइन, नैड करेगा अपलोड

नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय द्वारा नेशनल एकेडमिक डिपॉजिटरी नैड को लेकर महिला महाविद्यालय में एक कार्यशाला...

Dainik Bhaskar

Jun 29, 2018, 03:35 AM IST
सर्टिफिकेट अब होगा आन लाइन, नैड करेगा अपलोड
नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय द्वारा नेशनल एकेडमिक डिपॉजिटरी नैड को लेकर महिला महाविद्यालय में एक कार्यशाला हुई। एनपीयू के वीसी डॉ एसएन सिंह ने कहा कि छात्रों के जितने भी सर्टिफिकेट हैं, उसे नैड के द्वारा अपलोड करना होगा। ताकि छात्र कहीं भी अपना प्रमाण पत्र देख सकें अथवा उसका प्रिंट निकाल सकें।

वीसी ने विश्वविद्यालय के अंगीभूत कॉलेज के प्राचार्य की कार्यशैली पर टिप्पणी करते हुए कहा कि जिस काम के लिए पैसे दिए जाते हैं, पता नहीं वह पैसा कहां चला जाता है। बहुत दु:ख की बात है कि अंगीभूत कॉलेज की स्थिति बहुत ही खराब है। आप लोगों को अपने कार्य संस्कृति में सुधार लाना होगा। उन्होंने कहा कि राज्यपाल को भी सूचित कर दिया है कि यह तीनों अंगीभूत कॉलेज सरकार द्वारा निर्धारित 31 दिसंबर 2018 तक नैक से संबंधित कार्य नहीं करा पाएंगे। उन्होंने कहा कि बहुत सारे एफिलिएटेड कॉलेज हैं। जिनका ईमेल आईडी भी सही नहीं है।

उन्होंने जीएलए कॉलेज में चल रहे एमसीए सेंटर के बारे में कहा कि यह बहुत ही दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि जिस उद्देश्य को लेकर यह कोर्स शुरू किया था। उसे पूरा नहीं होने देने में कुछ वरीय शिक्षकों का हाथ है। इसमें हमें बहुत शर्मिंदगी लगती है। उन्होंने उपस्थित एफिलिएटेड कालेज के प्राचार्य को नसीहत देते हुए कहा कि आप अपने सेक्रेटरी को जाकर बताइए पहले। क्योंकि बिना काम किए हुए अब कोई भी काम नहीं चलेगा। इस कार्यशाला में मुख्य रूप से प्रो वीसी पवन कुमार पोद्दार, रजिस्ट्रार राकेश कुमार, जीएलए कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आईजी खलखो, जेएस कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर आरपी सिंह, महिला महाविद्यालय की प्राचार्य डॉक्टर मोहिनी गुप्ता एवं विभिन्न महाविद्यालयों के प्राचार्य विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।

कार्यशाला

नेशनल एकेडमिक डिपॉजिटरी को लेकर कार्यशाला का किया गया आयोजन , वीसी ने कहा

बैठक में शामिल वीसी व अन्य।

क्या है नैड

भारत सरकार का नेशनल एकेडमी डिपॉजिटरी स्कीम है। इसके तहत किसी भी छात्र का कॉलेज से संबंधित सर्टिफिकेट ऑनलाइन रहेगा। लेकिन बिना संबंधित छात्र के उसको कोई नहीं देख सकता है।

क्या करना होगा छात्रों को : इसके लिए छात्रों को सबसे पहले ईमेल आईडी बनाना होगा। उसके बाद अपने आधार कार्ड के जरिए नैड में जाकर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए नैड द्वारा एक ओटीपी नंबर दिया जाएगा। छात्र उसे महाविद्यालय को देंगे और महाविद्यालय द्वारा उसे विश्वविद्यालय को जमा कर दिया जाएगा। विश्वविद्यालय के द्वारा संबंधित छात्र के सारे सर्टिफिकेट को उस छात्र के लॉगिंग आईडी पर डाल दिया जाएगा।

X
सर्टिफिकेट अब होगा आन लाइन, नैड करेगा अपलोड
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..