--Advertisement--

जमीन बिक्री के पैसे वसूलने के लिए हुई थी ब्रजेश की हत्या

पलामू पुलिस ने पिपराटांड़ थाना अंतर्गत हेसातू के उदेश साव और राकेश पाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसकी जानकारी...

Dainik Bhaskar

Jul 04, 2018, 03:35 AM IST
जमीन बिक्री के पैसे वसूलने के लिए हुई थी ब्रजेश की हत्या
पलामू पुलिस ने पिपराटांड़ थाना अंतर्गत हेसातू के उदेश साव और राकेश पाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसकी जानकारी एसपी इंद्रजीत महथा ने पत्रकारों को दी। उन्होंने बताया कि 25 जून को हेसातू के सकेंद्र पाल के 12 वर्षीय पुत्र ब्रजेश पाल की हत्या गांव के दक्षिण पूरब चमरिया ढोडा के जंगल में की गई थी। उन्होंने बताया कि हत्या के पीछे 6 कट्‌ठा जमीन है। उन्होंने कहा कि हेसातू के उदेश साव ने सकेंद्र पाल से 6 कट्‌ठा जमीन खरीदने के एवज में 2 लाख 50 हजार रुपए का भुगतान किस्तों में किया। अंतिम किस्त 41 हजार रुपए 25 जून को ग्रामीणों की उपस्थिति में सकेंद्र को दिया गया। रुपए के भुगतान करने के बाद उदेश साव ने गांव के ही राकेश पाल के साथ मिलकर योजना बनाई की सकेंद्र पाल द्वारा जमीन के लिए बहुत रुपया लिया गया है, जबकि यह जमीन मेरे ही कब्जे में थी। इसके बाद दोनों ने योजनाबद्ध तरीके से 25 जून को ही सकेंद्र पाल के छोटे बेटे ब्रजेश पाल को बहला फुसला कर गांव के दक्षिण पूरब के जंगल में ले गया और उसके परिजन से 12 लाख रुपए फिरौती की मांग की। इसके बाद सकेंद्र ने इसकी सूचना पीपराटांड़ थाना को दी। पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट के गाइड लाइन के निर्देश पर 27 जून को अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया गया। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर डीएसपी प्रेमनाथ के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। पुलिस ने जांच के आधार पर मृतक ब्रजेश पाल के सिम का उपयोग राकेश पाल के मोबाइल में किए जाने के साक्ष्य के आधार पर राकेश पाल को गिरफ्तार किया गया। दोनों आरोपी ने पुलिस के समक्ष दोष स्वीकार करते हुए मामले का उद्भेदन किया।

छापामारी दल में प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक चंद्रशेखर आजाद, पुलिस अवर निरीक्षण जयप्रकाश सिंह, पांकी थाना प्रभारी ललित कुमार, लेस्लीगंज थाना प्रभारी राणा जंग बहादुर सिंह, पीपराटांड़ थाना प्रभारी गुलशन भोगरा, सहायक सहायक अपर निरीक्षक संजय कुमार सिंह एवं सशस्त्र बल के जवान शामिल थे।

मेदिनीनगर में प्रेसवार्ता करते एसपी और गिरफ्तार आरोपी।

X
जमीन बिक्री के पैसे वसूलने के लिए हुई थी ब्रजेश की हत्या
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..