--Advertisement--

सीओ ने 5 महीने का समय मांगा दलित परिवार ने खत्म किया अनशन

पाटन के शोले गांव में दलित परिवारों ने 40 एकड़ भूमि पर कब्जा दिलाने की मांग को लेकर जारी अनशन शनिवार को पांचवें दिन...

Dainik Bhaskar

Jul 22, 2018, 03:35 AM IST
पाटन के शोले गांव में दलित परिवारों ने 40 एकड़ भूमि पर कब्जा दिलाने की मांग को लेकर जारी अनशन शनिवार को पांचवें दिन समाप्त किया। समाहरणालय परिसर में उपायुक्त कार्यालय के समक्ष अनशन पर बैठे अनशनकारियों के साथ पाटन सीओ विमल सोरेन और सदर सीओ शिवशंकर पांडेय की वार्ता हुई। इसमें समस्या निपटाने के लिए और पांच महीने का समय लिया गया। सीओ ने कहा कि इस अवधि में जमीन पर कब्जा दिलाने की न्यायिक प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। दोनों पदाधिकारियों ने लिखित इकरारनामे पर नेताओं के समक्ष हस्ताक्षर किया, तब जाकर अनशनकारी अनशन तोड़ने को तैयार हुए।

अनशन पर बैठनेवालों में सरस्वती कुंवर, रूना कुंवर, हुलास भूइयां, बैजनाथ मोची, जगन्नाथ मांझी, राजेश मांझी, शिवनाथ मोची, भीखर मोची, श्याम बिहारी मोची को जूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया गया। मौके पर झारखंड राज्य दिहाड़ी मजदूर यूनियन के राजीव कुमार ने बताया कि 31 वर्ष पहले राज्य सरकार ने भूमिहीन दलित परिवारों को 40 एकड़ जमीन आजीविका के लिए दी थी। लेकिन उक्त जमीन पर आज तक इन परिवारों को कब्जा नहीं दिलाया गया। अब गांव के ही दबंगों द्वारा इस जमीन पर कब्जा कर लिया गया है। इसे लेकर यूनियन ने दूसरी बार अनशन किया। राजीव ने कहा कि जब तक हक नहीं मिलेगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान पर एटक के राज्य सचिव राजीव कुमार के अलावा कांग्रेस जिलाध्यक्ष बिट्टू पाठक, यूनियन के जिलाध्यक्ष गौतम कुमार, सचिव संजू ठाकुर, जमालुद्दीन अंसारी, निरंजन कमलापुरी, भाकपा माले के राज्य परिषद सदस्य रविंद्र भुइयां, आइसा से दिव्या भगत व बसपा नेता अजीत मेहता आदि उपस्थित थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..