--Advertisement--

पौधा लगाने से ज्यादा जरूरी है पौधों का संरक्षण

पौधारोपण से ज्यादा जरूरी पौधों का संरक्षण है। गांवों से ज्यादा शहरों में पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है। यह आनेवाले...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 03:35 AM IST
पौधा लगाने से ज्यादा जरूरी है पौधों का संरक्षण
पौधारोपण से ज्यादा जरूरी पौधों का संरक्षण है। गांवों से ज्यादा शहरों में पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है। यह आनेवाले समय की भयावह स्थिति की ओर इशारा कर रहा है। इसलिए अब तक जाने अनजाने में जो कोई भी पर्यावरण को नुकसान करके पाप के भगी बने हैं वे पेड़ लगाकर पुण्य के भागी बनें। अपने बेहतर भविष्य के लिए इससे बड़ा काम कुछ नहीं हो सकता है। उक्त बातें पलामू उपायुक्त अमीत कुमार ने कही। वे बुधवार को पर्यावरणविद कौशल किशोर के आवास पर आयोजित नि:शुल्क पौधा वितरण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। जायसवाल के द्वारा पिछले 52 वर्षों से चलाये जा रहे देशव्यापी पौधरोपण और वितरण कार्यक्रम, पर्यावरण धर्म और वनराखी मूवमेंट के 42वें साल के मौके पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत उपायुक्त कुमार, कौशल किशोर जायसवाल व डाली पंचायत मुखिया अमित कुमार जायसवाल ने पौधा लगा कर किया। पौधारोपण के बाद पर्यावरण धर्म के आठ मूल मंत्र की शपथ पर्यावरणविद जायसवाल ने सभी को दिलायी। मौके पर उपायुक्त कुमार ने कहा कि कौशल किशोर द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि पर्यावरण को बचाने की जिम्मेवारी सिर्फ एक व्यक्ति की नहीं है। पूरे समाज को इसके बारे में सोचना होगा। ताकि हमारी आनेवाली पीढ़ियां स्वस्थ हवा में सांस ले सकें।

कार्यक्रम का संचालन विनय कुमार बिनू व धन्यवाद अरुण कुमार जायसवाल ने किया। कार्यक्रम में ज्ञान निकेतन की छात्राओं ने राष्ट्र गान व स्वागत गान प्रस्तुत किया। मौके पर काफी लोग मौजूद थे।

पर्यावरण धर्म और वनराखी मूवमेंट की 42वीं वर्षगांठ पर कार्यक्रम आयोजित, डीसी ने कहा

पौधा लगाते डीसी अमीत कुमार, पर्यावरण विद कौशल किशाेर जायसवाल।

बिना हरियाली जीवन में खुशहाली नहीं

पर्यावरणविद कौशल किशोर जायसवाल ने कहा कि पेड़ पौधे को अपने बच्चों की तरह स्नेह व प्यार दें। तभी पेड़ पौधे सुरक्षित रहेंगे। उन्होंने कहा कि बिना हरियाली के जीवन में खुशहाली नहीं आ सकती। पलामू में रेगिस्तान जैसी स्थिति उत्पन्न होने लगी है। इससे उबरने के लिए अधिक से अधिक पेड़ लगाना ही एक मात्र रास्ता है। मौके पर डाली पंचायत मुखिया अमित कुमार जायसवाल ने कहा कि उनके पिता द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान को समाज के साथ मिलकर आगे तक ले जायेंगे।

X
पौधा लगाने से ज्यादा जरूरी है पौधों का संरक्षण
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..