• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • शिविर नहीं लगाने वाले तीन पंचायत सेवक निलंबित, बीडीओ को शो कॉज
--Advertisement--

शिविर नहीं लगाने वाले तीन पंचायत सेवक निलंबित, बीडीओ को शो कॉज

सुदूरवर्ती नक्सल प्रभावित छतरपुर के एक दर्जन पंचायतों का औचक निरीक्षण डीसी अमीत कुमार ने शनिवार को किया।...

Dainik Bhaskar

Jul 08, 2018, 03:40 AM IST
शिविर नहीं लगाने वाले तीन पंचायत सेवक निलंबित, बीडीओ को शो कॉज
सुदूरवर्ती नक्सल प्रभावित छतरपुर के एक दर्जन पंचायतों का औचक निरीक्षण डीसी अमीत कुमार ने शनिवार को किया। निरीक्षण के दौरान हुटूगदाग, हुलसुल व चेराई में पंचायत शिविर का अायोजन नहीं किया गया था। इस कारण डीसी ने तीनों पंचायत के पंचायत सेवक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। वहीं छतरपुर के बीडीओ रामयतन वर्णवाल से स्पष्टीकरण मांगा है। डीसी कुमार ने सुदूरवर्ती इलाके में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए जा रहे शौचालय निर्माण कार्य को देखा। उन्होंने मौके पर समन्वयक को कई दिशा निर्देश दिए।

कार्य में उदासीनता बर्दाश्त नहीं : डीसी

डीसी अमीत कुमार ने इस संबंध में भास्कर को बताया कि सभी पंचायतों में पंचायत सेवक को शिविर लगाने का निर्देश है। शिविर में सरकार के सात इंडिकेटर पर कार्य करना है। शिविर के माध्यम से इन बिंदुओं पर ग्रामीणों की समस्याओं पर गंभीरता से पहल करनी है, ताकि सरकार का उद्देश्य पूरा हो। उन्होंने बताया कि जब वे हुटूगदाग, हुलसुल व चेराई वन पहुंचे तब वहां कोई शिविर नहीं लगा था। यह उदासीनता का परिचायक है। पंचायत स्तर पर पंचायत सेवक ही नोडल पदाधिकारी होता है, इसलिए तीनों पंचायत सेवक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

इधर नावा बाजार प्लस टू उच्च विद्यालय प्रांगण में ग्राम स्वराज अभियान योजना के अंतर्गत इटको पंचायत के कोई भी पंचायत प्रतिनिधि एवं पदाधिकारी नहीं पहुंचे। इससे ग्रामीणों में काफी मायूसी है। वही शिविर में प्रतिनिधि व पदाधिकारी व कर्मी के आने का शनिवार दिनभर कुर्सी बाट जोहता रहा। ग्रामीण विकास कार्य के प्रति जिम्मेवार प्रतिनिधि व कर्मी की उदासीनता से काफी मायूस हुए। दूसरी ओर इटको पंचायत के ग्राम नावा बाजार में 2011 में हुए आर्थिक जनगणना में महज 14 गरीब परिवार के सेक डाटा में नाम दर्ज है।

इसके फलस्वरूप यहां प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना के तहत निशुल्क गैस वितरण, बिजली कनेक्शन, इंद्रधनुष मिशन के तहत टीकाकरण व पंचायत की अन्य लाभप्रद योजना से लोग वंचित हैं। जबकि अभी तक प्रखंड मुख्यालय होने के बावजूद भी आठ ही लाभुक को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला पाया है। गांव में कई ऐसे बुजुर्ग हैं जिनका उम्र 80 से 90 वर्ष हो चुका है। लेकिन पेंशन के लिए भटक रहे हैं।

शौचालय निर्माण का निरीक्षण करते डीसी अमीत कुमार।

X
शिविर नहीं लगाने वाले तीन पंचायत सेवक निलंबित, बीडीओ को शो कॉज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..