• Hindi News
  • Jharkhand
  • Medininagar
  • छह स्कूलों की जांच, गड़बड़ी के बाद शिक्षकों को शोकॉज
--Advertisement--

छह स्कूलों की जांच, गड़बड़ी के बाद शिक्षकों को शोकॉज

Medininagar News - जिला शिक्षा अधीक्षक सुशील कुमार ने सोमवार को नावाबाजार प्रखंड के छह विद्यालयों का अौचक निरीक्षण किया। निरीक्षण...

Dainik Bhaskar

Jul 10, 2018, 03:40 AM IST
छह स्कूलों की जांच, गड़बड़ी के बाद शिक्षकों को शोकॉज
जिला शिक्षा अधीक्षक सुशील कुमार ने सोमवार को नावाबाजार प्रखंड के छह विद्यालयों का अौचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कई अनियमितताएं पकड़ी गई। नावाबाजार स्थित मलाह टोली उत्क्रमित मध्य विद्यालय में सुबह 9:10 बजे स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएसई ने देखा कि विद्यालय का संचालन नहीं हो रहा है। 44 छात्र छात्राएं उपस्थित थे जिनकी हाजरी नहीं बनी थी। विद्यालय में 10 वर्ग कक्ष में भारी गंदगी मिली। 21 जनवरी 2014 के बाद विद्यालय प्रबंधन समिति की बैठक नहीं हुई है। विद्यालय में तीन शिक्षक कार्यरत हैं। इनमें पारा शिक्षक सह सचिव दामोदर चौधरी 7 जुलाई से बिना सूचना अनुपस्थित हैं। पारा शिक्षिका सुमित्रा देवी ज्ञान सेतू प्रशिक्षण में गई थी, जबकि पारा शिक्षक श्रवण कुमार चौधरी विद्यालय में उपस्थित थे।

इसी तरह रजदीरिया उत्क्रमित मध्य विद्यालय में 7 शिक्षकों में दुर्गेश कुमार पांडेय बिना सूचना के अनुपस्थित मिले। कुल नामांकित 322 छात्र में 75 छात्र ही उपस्थित पाए गए। स्तरोन्नत मध्य विद्यालय नावाबाजार में 11 शिक्षक में प्रधानाध्यापक अशोक कुमार टूटी विद्यालय से अनुपस्थित पाए गए। उनके उपस्थिति पंजी में सीएल दर्ज था मगर आवेदन नहीं था। सहायक शिक्षक रामेश्वर सिंह का आकस्मिक अवकाश का आवेदन था मगर वह स्वीकृत किया हुआ नहीं था। विद्यालय में 379 नामांकित छात्रों में 122 छात्र ही उपस्थित मिले। डीएसई ने बताया कि सूचना पंजी के अवलोकन से स्पष्ट है कि टुटी लगातार किसी न किसी बहाने मुख्यालय जाने का बहाना कर विद्यालय से अनुपस्थित रहते हैं। पीपरहवा स्थित विशेष कोटि के अावासीय विद्यालय का भी 11:30 बजे डीएसई ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 75 छात्र उपस्थित मिले। विद्यालय में शौचालय निर्माणाधीन है इस कारण बच्चों को कठिना इयों का सामना करना पड़ रहा है। पीपरहवा में ही उत्क्रमित मध्य विद्यालय के निरीक्षण में 104 छात्रों के विरुद्ध 40 छात्र ही उपस्थित पाए गए। विद्यालय में एक मात्र शिक्षक रंजीत कुमार जायसवाल कार्यरत है। प्रखंड संसाधन केंद्र नावाबाजार में 6 जुलाई 2018 से बिना सूचना के बचन कुमार पंकज अनुपस्थित थे। मिड-डे मील कोषांग के ऑपरेटर चिंता मणी विश्वकर्मा भी अनुपस्थित पाए गए। डीएसई ने बताया कि संबंधित शिक्षक व प्रधानाध्यापक व कर्मी से स्पष्टीकरण मांगा गया है।

जिला शिक्षा अधीक्षक सुशील कुमार ने सोमवार कोे छह विद्यालयों का किया अौचक निरीक्षण।

X
छह स्कूलों की जांच, गड़बड़ी के बाद शिक्षकों को शोकॉज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..