--Advertisement--

पॉलीकैब एजेंसी की गलती से सात जिलों में ब्लैक आउट

Medininagar News - पॉलिकैब एजेंसी की एक मामूली गलती के कारण शुक्रवार को सात जिलों में ब्लैक आउट जैसी स्थिति बन गई। करीब 12 घंटे तक...

Dainik Bhaskar

Jul 21, 2018, 03:40 AM IST
पॉलीकैब एजेंसी की गलती से सात जिलों में ब्लैक आउट
पॉलिकैब एजेंसी की एक मामूली गलती के कारण शुक्रवार को सात जिलों में ब्लैक आउट जैसी स्थिति बन गई। करीब 12 घंटे तक बिजली गुल रही। बिजली गुल होने के कारण रुक्का और बूटी से पानी की आपूर्ति भी ठप हो गई। फॉल्ट मिलने के बाद ऊर्जा विकास निगम के दो डिवीजन ट्रांसमिशन निगम और वितरण निगम एक-दूसरे को जिम्मेदार बताते रहे। जीएम धनेश झा ने कहा कि जो भी दोषी होंगे, उन्हें चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी।

शुक्रवार सुबह 8:55 बजे से कहलगांव-चांडिल 220 केवी सेंट्रल सेक्टर पीजीसीआईएल लाइन नामकुम-2 और हटिया-2 लाइन ब्रेक डाउन हो गया। नामकुम ग्रिड के समीप होतेडीह में 220 केवी लाइन के नीचे पॉलिकैब एजेंसी 11 केवी लाइन का काम कर रही थी। अर्थ आ जाने के कारण 11 केवी का लाइन 220 केवी लाइन से सट गया। इससे पीजीसीआईएल-हटिया-2 लाइन ब्रेक डाउन हो गया। फॉल्ट ढूंढ़ने में आठ घंटे लग गए।

करीब 12 घंटे तक ठप रही बिजली

इन जिलों में बिजली ठप

ट्रांसमिशन लाइन में खराबी के कारण हटिया-2 लाइन से भी बिजली आपूर्ति ठप हो गई। इससे रांची, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, गढ़वा, लातेहार और मेदिनीनगर जिले में बिजली गुल रही। इस दौरान सिकिदरी से बिजली लेकर विधानसभा और राजभवन सबस्टेशन को दी गई। इससे अपर बाजार, सीएम हाउस, रेडियम रोड, डिप्टीपाड़ा, कचहरी चौक क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति की गई।

क्या कहते हैं जिम्मेवार

220 केवी लाइन पूरी तरह से ठीक थी। वितरण वाले लोग 11 केवी का काम करा रहे थे। इससे अर्थ की समस्या हुई और लाइन 220 केवी में टच कर गया। इसके कारण ब्रेक डाउन हो गया। -अजय कुमार, एसई, ट्रांसमिशन निगम

यहां इस तरह हुई गलती

220 केवी लाइन के नीचे 11 केवी का लाइन लगाने का काम पॉलीकैब एजेंसी कर रही थी। नियमत: दोनों लाइन के बीच की दूरी कम से कम 2 से 3 मीटर के बीच होनी चाहिए। मगर यह दूरी महज 1 मीटर थी। इसके कारण अर्थ 220 केवी तक पहुंच गया और 220 केवी पीजीसीआईएल नामकुम-हटिया-2 लाइन ब्रेक डाऊन हो गया।

कल तक कोई समस्या नहीं थी। आज अचानक कैसे समस्या आ गई। अपनी गलती को वितरण पर थोपना उचित नहीं है। ट्रांसमिशन के कारण ऐसी समस्या उत्पन्न हुई। -अजीत कुमार, एसई, वितरण निगम

X
पॉलीकैब एजेंसी की गलती से सात जिलों में ब्लैक आउट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..