मेदिनीनगर

--Advertisement--

25 नोडल पदाधिकारियों को मिलेगा सम्मान

स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे नोडल पदाधिकारियों को चिह्नित कर...

Danik Bhaskar

Aug 08, 2018, 03:40 AM IST
स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे नोडल पदाधिकारियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी। ये बातें उपायुक्त अमीत कुमार ने मंगलवार को स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की समीक्षा के दौरान कही। बैठक का आयोजन पंडित दीन दयाल उपाध्याय स्मृति सभागार में किया गया था। मौके पर उन्होंने बताया कि 25 नोडल को सम्मानित किया जाएगा। उपायुक्त ने निर्देश दिया कि उनके कार्यों का आकलन करते हुए प्रतिवेदन जमा करें। नोडल के कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा की सभी 174 नोडल में से ज्यादा का कार्य असंतोषजनक है। जिस उद्देश्य से नोडल पदाधिकारी बनाए गए थे वह सफल नहीं हुए। यह विभागीय निर्देश की अवहेलना को दर्शाता है।

मौके पर डीसी ने कहा कि 2 अक्टूबर 2018 तक पलामू जिले को ओडीएफ करना है, इसलिए सभी नोडल कमर कस कर काम करें। इसके लिए विधिवत प्लानिंग करें। जो योग्य लाभुक हैं उसकी सूची 30 अगस्त तक दुरुस्त कर लें। उन्होंने कहा कि ग्राम स्तर पर राजमिस्त्री को चिह्नित कर शौचालय निर्माण कार्य में संलग्न करें। ट्रेंड राजमिस्त्री के साथ लेबर को भी ट्रेंड करें। बेहतर प्रबंधन से ही पलामू ओडीएफ होगा। सभी नोडल को पंचायत में रुकने एवं रात्रि चौपाल लगाने का निर्देश उपायुक्त ने दिया। उन्होंने कहा कि रात में रुकने वाले नोडल को इंसेंटिव भी दिया जाएगा।

बैठक में उन्होंने सख्त निर्देश दिया कि मिशन एसबीएम हर हाल में पूरा हो। मौके पर स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के बारे में भी चर्चा की गई। बैठक में डीडीसी बिंदु माधव सिंह, एनईपी डाइरेक्टर हैदर अली, एसडीओ छतरपुर राजेश प्रजापति, कार्यपालक अभियंता अजय कुमार सिंह, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, एसबीएम की पूरी टीम मौजूद थी।

मेदिनीनगर मंे कार्यक्रम में शामिल अधिकारी व अन्य लोग।

Click to listen..