मेदिनीनगर

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Medininagar
  • 6000 रुपए रिश्वत लेते बीईईओ को एसीबी की टीम ने किया गिरफ्तार
--Advertisement--

6000 रुपए रिश्वत लेते बीईईओ को एसीबी की टीम ने किया गिरफ्तार

भवनाथपुर प्रखंड के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी कौशल किशोर चौबे को एसीबी की टीम ने छह हजार रुपए रिश्वत लेते...

Dainik Bhaskar

Jul 31, 2018, 03:41 AM IST
6000 रुपए रिश्वत लेते बीईईओ को एसीबी की टीम ने किया गिरफ्तार
भवनाथपुर प्रखंड के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी कौशल किशोर चौबे को एसीबी की टीम ने छह हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथ खरौंधी मोड़ स्थित उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया है। एसीबी की टीम ने बीईईओ को सोमवार की दोपहर करीब तीन बजे रिश्वत लेते पकड़ा। इसके बाद उन्हें अपने साथ मेदिनीनगर ले गई।

बीईईओ की गिरफ्तारी से भवनाथपुर प्रखंड कार्यालय में दहशत फैल गई। इस संबंध में बताया गया कि बीईईओ केतार प्रखंड के नव प्राथमिक विद्यालय कमदरवा के पारा शिक्षक आशीष पाठक से बिल समायोजन को लेकर नौ हजार रुपए की मांग की थी। इसमें आशिष ने बीईईओ को अग्रिम के रुप में छह हजार रुपए का रिश्वत उनके आवास पर जाकर दिया। आशीष रिश्वत देकर जैसे ही आवास नीचे उतरे, वहां पर पहले से मौजूद एसीबी की टीम ने बीईईओ को धर दबोचा। बीईईओ के पास से एसीबी द्वारा रिश्वत के रुप में आशीष को दिया गया छह हजार रुपए बरामद किया गया। एसीबी की टीम बीईईओ को चेहरा ढक कर अपने साथ वाहन में बैठाई व वहां से लेकर मेदिनीनगर के लिए निकल गई। इस संबंध में एसीबी के डीएसपी प्राण रंजन ने कहा कि पीड़ित व्यक्ति आशीष पाठक ने बीईईओ के विरुद्ध शिकायत की थी। इस मामले में सर्व प्रथम पूरे आरोप की सत्यता की जांच की गई। इसके बाद आशीष को रिश्वत की राशि उपलब्ध कराया गया। उन्होंने कहा कि बीईईओ के पास से रिश्वत की राशि बरामद कर ली गई है।

एसीबी की टीम से घिरे बीईईओ कौशल किशोर चौबे।

वर्ष 2012 में भी हजारीबाग से गिरफ्तार हुए थे

इससे पूर्व में भी 2012 में हजारीबाग जिले में बीईईओ के पद पर रहते एक पारा शिक्षक से 500 रिश्वत लेते एसीबी की टीम ने कौशल किशोर चौबे को रंगे हाथ पकड़े गए थे। एसीबी के हाथों घुस लेते पकड़े जाने पर देर शाम में कुछ पारा शिक्षकों ने उनके आवास के सामने जम कर आतिशबाजी भी की और कुछ कर्मी एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी जाहिर किया। बताया कि उनसे कोई कर्मी खुश नहीं था। वे मंथली पेमेंट के नाम पर भी सभी से 500-1000 की मांग भी करते थे। किसी किसी को अभी तक 2-4 माह का वेतन रोक के रखे है ।

बीईईओ की गिरफ्तारी से शिक्षाकर्मियों में खुशी

बीईईओ की गिरफ्तारी से भवनाथपुर, केतार व खरौंधी प्रखंड के शिक्षा विभाग से जुड़े लोगों में काफी खुशी देखी जा रही है। बताया जाता है कि बीईईओ बिना रिश्वत का कोई काम नहीं करता था। इसके कारण लोग काफी परेशान थे। कई शिक्षकों ने कहा कि बीईईओ पैसे के पीछे पागल हो गए थे। पैसे की भूख के कारण ही आज उन्हें गिरफ्तार होना पड़ा।

X
6000 रुपए रिश्वत लेते बीईईओ को एसीबी की टीम ने किया गिरफ्तार
Click to listen..