Hindi News »Jharkhand »Medininagar» जांच समिति करेगी औकाही-रामगढ़ और नावाखास-बूढ़ी सड़क की जांच

जांच समिति करेगी औकाही-रामगढ़ और नावाखास-बूढ़ी सड़क की जांच

जिला विकास समन्वय और पुनरीक्षण समिति की बैठक समिति अध्यक्ष-सह सांसद वीडी राम की अध्यक्षता में डीआरडीए सभागार में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 27, 2018, 03:45 AM IST

जिला विकास समन्वय और पुनरीक्षण समिति की बैठक समिति अध्यक्ष-सह सांसद वीडी राम की अध्यक्षता में डीआरडीए सभागार में हुईं। बैठक में पूर्व की बैठक में दिए गए निर्देश के आलोक में 23 बिंदुओं पर अनुपालन की समीक्षा की गईं। इस दौरान सड़क निर्माण में गड़बड़ी पर नाराजगी जताई गई। एचएससीएल द्वारा औकाही से रामगढ़ एवं नावाखास से बूढ़ी के लिए निर्माणाधीन सड़क की गुणवत्ता पर सांसद ने असंतोष जताते हुए जांच समिति के गठन का निर्देश दिया। उन्होंने आरइओ के कार्यपालक अभियंता देवशरण भगत को फटकार भी लगाई। कहा कि जिस सड़क को 2 साल पहले पूरा होना चाहिए था, वह अभी तक अधूरा है। उन्होंने आरइओ के कार्यपालक अभियंता पर संवेदक से मिलीभगत का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि जब आपसे बात करते हैं तो सड़क का काम एक सप्ताह चलता है और फिर बंद हो जाता है। यह सब क्या है? यह आप लोग दोनों की मिलीभगत है। वहीं पाटन छतरपुर विधायक राधा-कृष्ण किशोर ने भी अपने क्षेत्र में बन रही तेरह सड़क का जिक्र किया कि यह कब बनेगा? कार्यपालक अभियंता द्वारा इन सभी सड़कों के मामले में बताया कि इन सभी सड़क पर केस है। इससे विधायक ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि जनता को इस से कोई मतलब नहीं है कि सड़क पर केस है कि क्या है। जनता को सड़क चाहिए।

जलापूर्ति बाधित रहने पर भी लगी फटकार : बैठक में जिले में पेयजल के लिए संचालित ग्रामीण एवं शहरी जलापूर्ति योजना की समीक्षा की गई। समिति के सदस्यों ने बताया की चुकरू से जलापूर्ति हमेशा बाधित रहती है। कार्यपालक अभियंता पीएचडी अजय कुमार सिंह ने बताया की जिले में संचालित 27 लघु जलापूर्ति योजनाओं की मरम्मत का कार्य चल रहा है। कुछ सदस्यों ने बताया कि हिंडालको के खनन क्षेत्र में खनन के बाद प्राप्त पानी का संग्रह नहीं किए जाने से बड़ी मात्रा में पानी का दुरुपयोग हो रहा है। इसके बाद समिति द्वारा जिला खनन पदाधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक को संयुक्त रूप से जांच करने को कहा गया।

फॉगिंग मशीन से मच्छरनाशक दवा छोड़ने का निर्देश : बैठक में नगर निगम क्षेत्र में कचरा प्रबंधन इकाई की स्थापना की भौतिक जानकारी ली गई। बरसात के मौसम को देखते हुए नगर निगम क्षेत्र में फॉगिंग मशीन द्वारा सभी वार्ड में रोस्टर वार धुआं छोड़ने का निर्देश दिया गया। खाद्य आपूर्ति विभाग की समीक्षा के दौरान जिले में 100 क्विंटल से अधिक धान बेचने वाले किसानों को चिन्ह्ति किए जाने की जानकारी दी गई।

सेविका-सहायिका की नियुक्ति में अनियमितता मामले पर हुई चर्चा : बैठक में समाज कल्याण विभाग द्वारा आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका की नियुक्ति में अनियमितता के मामले को प्रमुखता से उठाया गया। सदस्यों द्वारा बताया गया कि आम सभा में सर्वसम्मति से चयन के बावजूद विभाग द्वारा नियुक्ति के मामले को लंबे समय तक निष्पादन नहीं किया जाता है। सांसद ने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी से नियुक्ति के लिए निर्धारित मापदंड की जानकारी ली। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया की बाल विकास परियोजना पदाधिकारी द्वारा आम सभा में चयनित सेविका-सहायिका की सूचि सीधे उप विकास आयुक्त को भेजी जाए। वे एक सप्ताह के अंदर नियुक्ति पत्र निर्गत करेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×