Hindi News »Jharkhand »Medininagar» 15 जुलाई से शादी-विवाह पर लग जाएगा ब्रेक, अगले साल 17 जनवरी से शुभ लगन में फिर गूंजेगी शहनाई

15 जुलाई से शादी-विवाह पर लग जाएगा ब्रेक, अगले साल 17 जनवरी से शुभ लगन में फिर गूंजेगी शहनाई

15 जुलाई से शादी-विवाह पर ब्रेक लग जाएगा। इसके बाद अगले साल 17 जनवरी से शुभ लगन में फिर शहनाई गूंजेगी। इससे पहले 14...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 11, 2018, 03:45 AM IST

15 जुलाई से शादी-विवाह पर लग जाएगा ब्रेक, अगले साल 17 जनवरी से शुभ लगन में फिर गूंजेगी शहनाई
15 जुलाई से शादी-विवाह पर ब्रेक लग जाएगा। इसके बाद अगले साल 17 जनवरी से शुभ लगन में फिर शहनाई गूंजेगी। इससे पहले 14 जुलाई से आषाढ़ी नवरात्र यानी गुप्त नवरात्र शुरू हो रहा है।

23 जुलाई को हरिशयनी एकादशी के साथ चातुर्मास और 28 जुलाई से सावन शुरू हो जाएगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सनातन धर्म परंपरा में चार नवरात्र मनाने की परंपरा प्राचीन काल से रही है। जब भी ऋतु परिवर्तन होता है, उससे पहले आदि शक्ति जगत जननी जगदंबा की आराधना-पूजा कर मानव अपने शरीर में शक्ति संचय करता है। मां की आराधना करने से ऋतु परिवर्तन जनित स्वास्थ्य पर पड़ने वाले कुप्रभावों से मुक्ति मिलती है। आषाढ़ी नवरात्र में मां कामाख्या की पूजा विशेष रूप से की जाती है। तंत्र परंपरा के साधक गुप्त नवरात्र में ही सिद्धि प्राप्त करने कामाख्या जाते हैं। साकची के पं संतोष त्रिपाठी ने बताया कि 23 जुलाई को हरिशयनी एकादशी व्रत होगा। इसी दीन से चातुर्मास व्रत आरंभ हो जाएगा। मान्यता है कि इन चार महीनों में भगवान नारायण शयन करते हैं। पुन: कार्तिक महीने में देवोत्थान एकादशी को भगवान नारायण का जागरण होता है। इस चार महीने की अवधि में धर्माचार्य भौतिक संसाधनों से मुक्त रह कर ईश्वर उपासना में तल्लीन रहते हैं। चातुर्मास में वे कहीं यात्रा भी नहीं करते हैं। विवाह, मुंडन आदि शुभ कार्य वर्जित होता है।

14 जुलाई से गुप्त नवरात्र की शुरुआत, 23 से चातुर्मास, 27 को मनेगी गुरु पूर्णिमा

28 से शुरू हो रहा सावन

महीना सावन इसबार 27 जुलाई से शुरू हो रहा है। लेकिन इसे उदया तिथि यानी 28 जुलाई से माना जाएगा। इसबार सावन के अंतिम दिन 26 अगस्त को सोमवार पड़ने से रक्षाबंधन का त्योहार बहुत खास संयोग बना रहा है। वहीं 27 जुलाई को गुरु पूर्णिमा मनाई जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×