Hindi News »Jharkhand »Medininagar» प्रमंडल का सबसे पुराना जिला प्लस टू उच्च विद्यालय में बुनियादी सुविधाओं का अभाव

प्रमंडल का सबसे पुराना जिला प्लस टू उच्च विद्यालय में बुनियादी सुविधाओं का अभाव

पलामू प्रमंडल का सबसे पुराना जिला प्लस टू उच्च विद्यालय कई समस्याओं से जूझ रही है। यह स्कूल 21 साल से प्रभारी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 20, 2018, 10:20 AM IST

प्रमंडल का सबसे पुराना जिला प्लस टू उच्च विद्यालय में बुनियादी सुविधाओं का अभाव
पलामू प्रमंडल का सबसे पुराना जिला प्लस टू उच्च विद्यालय कई समस्याओं से जूझ रही है। यह स्कूल 21 साल से प्रभारी प्राचार्य के भरोसे चल रहा है। जबकि सन 1877 ई स्थापित इस स्कूल की गौरवमयी परंपरा रही है। इस स्कूल के अंतिम प्राचार्य के रूप में रामेश्वर प्रसाद रवानी का नाम दर्ज है। वे 2 जून 2005 को योगदान दिए वहीं 2007 में सेवानिवृत हो गए। तब से अब तक करीब दो दशक तक इस स्कूल का काम प्रभार में चल रहा है । स्कूल के बुनियादी सुविधाओं का अभाव है। स्कूल में एक चापाकल है। मोटर खराब है। छत का सिलिंग भी उजड़ कर गिर रहा है। स्कूल में मात्र छह शिक्षक हैं। छात्रों की संख्या दसवीं में 85, नवम में 81 और इंटर में वाणिज्य संकाय में 35, विज्ञान संकाय में 220, कला संकाय में 158 है। गौरतलब हो कि इंटर में जीव विज्ञान को छोड़कर और किसी विषय के शिक्षक है ही नहीं।

जिला स्कूल के टूटी हुई छत।

क्या कहते है प्रभारी प्राचार्य

जिला स्कूल के प्रभारी प्राचार्य दामोदर उपाध्याय ने बताया कि समस्याओं से विभाग को अवगत कराया गया है। उन्होंने कहा कि स्कूल में बुनियादी सुविधाओं के साथ मैन पावर की भी कमी है। जिससे शिक्षण कार्य में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। शिक्षकों के कमी होने से कभी कभी क्लास भी बाधित हो जाती है।

क्या कहना है छात्रों का

आईएससी के द्वितीय वर्ष का छात्र आलोक कुमार सिंह व दिया राज का कहना है कि जिस विषय के शिक्षक है उसी का कक्षा संचालित होता है। जैसे भौतिकी, गणित, सहित अन्य कई विषय की पढाई नहीं हो पाती है। नहीं हो पाती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Medininagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×