• Hindi News
  • Jharkhand
  • Medininagar
  • दो एजेंसियों ने एक ही गणना के दिए दो आंकड़े, डीसी ने चेताया
--Advertisement--

दो एजेंसियों ने एक ही गणना के दिए दो आंकड़े, डीसी ने चेताया

Medininagar News - डीआरडीए सभागार में समाज कल्याण एवं स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त बैठक उपायुक्त पलामू अमीत कुमार की अध्यक्षता में...

Dainik Bhaskar

Jul 20, 2018, 10:20 AM IST
दो एजेंसियों ने एक ही गणना के दिए दो आंकड़े, डीसी ने चेताया
डीआरडीए सभागार में समाज कल्याण एवं स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त बैठक उपायुक्त पलामू अमीत कुमार की अध्यक्षता में हुई। बैठक में संस्थागत प्रसव परिवार कल्याण गर्भवती महिलाओं का प्रसव पूर्व की जाने वाली जांच एवं टीकाकरण, नवजात बच्चों का स्तन पान, खाद्य एवं पोषाहार सहित मुख्यमंत्री लक्ष्मी लाडली योजना, कन्यादान योजना, लक्ष्मी वंदना योजना की प्रखण्डवार समीक्षा की गई। इस दौरान डीसी बाल विकास परियोजना कार्यालय व चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा गर्भवती महिलाओं की सूची में अंतर देख काफी नाराज हुए। उन्होंने इसमें सुधार के निर्देश देते हुए कार्य संस्कृति में सुधार लाने का निर्देश दिया है।

बैठक में प्रखंडों में संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा पंचायतों में संचालित उप स्वास्थ्य केन्द्र में विगत नौ माह में गर्भवती महिलाओं की सूची तथा आंगनबाड़ी केन्द्र एवं बाल विकास परियोजना कार्यालय द्वारा प्रस्तुत गर्भवती महिलाओं की सूची में काफी अंतर पाया गया। उपायुक्त ने संबंधित पदाधिकारियों को आपस में सूची का मिलान कर सही संख्या उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। बाल विकास परियोजना पदाधिकारी पाटन सुनीता अग्रवाल द्वारा विगत नौ माह में गर्भवती महिलाओं की संख्या 2600 प्रतिवेदित की गई है। जबकि पाटन प्रखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक एवं चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा प्रतिवेदित सूची में गर्भवती महिलाओं की संख्या मात्र 1970 है। इसी तरह हरिहरगंज में सीडीपीओ की सूची में गर्भवती महिलाओं की संख्या 1864 जबकि प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक एवं चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा प्रतिवेदित सूची में गर्भवती महिलाओं की संख्या मात्र 1300 प्रतिवेदित है। सूचियों के अंतर्विरोध को देखते हुए उपायुक्त ने संबंधित पदाधिकारियों की कार्य पद्धति पर असंतोष व्यक्त करते हुए सूची का मिलान कर संशोधन का निर्देश दिया।

बैठक में वित्तीय वर्ष 2016-17 एवं 2017-18 में लक्ष्मी वन्दा योजना के लाभुकों का चयन नहीं किए जाने पर जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को चेतावनी देते हुए वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए योजना के निर्धारित मापदंड के अनुसार लाभुकों की सूची बनाने का निर्देश दिया। बैठक में लाडली लक्ष्मी योजना के क्रियान्वयन में बाल विकास परियोजना पदाधिकारी ग्रामीण नीता चौहान द्वारा निर्धारित लक्ष्य के विरुद्ध अच्छी उपलब्धि हासिल करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा उनके निर्धारित लक्ष्य को और बढ़ाने का निदेश दिया। विश्रामपुर, लेस्लीगंज, पांकी तथा छतरपुर के चिकित्सा पदाधिकारी को अपने-अपने क्षेत्र में संचालित स्वास्थ्य केन्द्र में प्रसव सुविधा के लिए आवश्यक संसाधन की व्यवस्था का निर्देश दिया तथा जुलाई माह में खसरा, रुबेला एवं अगस्त माह में कृमि मुक्ति अभियान के लिए गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त सहित, सहायक समाहर्ता कुमार ताराचन्द, सिविल सर्जन डाॅ कलानन्द मिश्रा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी रंजना करण, जिला जन संपर्क पदाधिकारी देवेन्द्र नाथ भादुड़ी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, सभी प्रखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक उपस्थित थे।

X
दो एजेंसियों ने एक ही गणना के दिए दो आंकड़े, डीसी ने चेताया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..