• Home
  • Jharkhand News
  • Mihijam
  • करप्शन फ्री कॉरपोरेशन बनाएं, भ्रष्टाचार की शिकायत न आए
--Advertisement--

करप्शन फ्री कॉरपोरेशन बनाएं, भ्रष्टाचार की शिकायत न आए

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि नगर निकाय चुनाव जीतकर आने के बाद हमारी जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है। उन्होंने...

Danik Bhaskar | May 01, 2018, 03:30 AM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि नगर निकाय चुनाव जीतकर आने के बाद हमारी जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि आप करप्शन फ्री कॉरपोरेशन बनाएं। किसी भी निकाय से भ्रष्टाचार की कोई शिकायत नहीं आनी चाहिए। वहां भ्रष्टाचार की कोई गुंजाइश भी नहीं रहनी चाहिए। मुख्यमंत्री सोमवार को हाल में संपन्न निकाय चुनाव में डिप्टी मेयर, मेयर, नगर परिषद और नगर पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष के अलावा विजयी पार्षदों के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जीत कर आए लोगों को दलगत भावना से ऊपर उठकर काम करना चाहिए। विकास के लिए अगर उन्हें कड़े निर्णय भी लेने पड़े, तो लेना चाहिए। चुनाव में जीत हासिल करने वाले विपक्ष को भी साथ में रखकर विकास योजनाओं को धरातल पर उतारें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव में पंचायत सचिवालय की तरह ही अब नगर में भी वार्ड परिषद का कार्यालय बनाया जाएगा। हर वार्ड में एक ऑफिस खुलेगा, जिसका नेतृत्व वार्ड पार्षद करेंगे। वार्ड में हर माह बैठक होगी और वहां की समस्याओं को सुलझाया जाएगा। सीएम ने कहा कि केंद्र में और राज्य के बाद शहरों में भी भाजपा की तीसरी सरकार बन गई है। विकास के लिए नगर की सरकारों को भी अपने लिए आर्थिक संसाधन जुटाने होंगे। रोड मैप तैयार कर उसकी प्रत्येक तीन माह पर समीक्षा करनी होगी।

मुख्यमंत्री ने निकाय चुनाव में भाजपा की जीत को विचारधारा की जीत बताया और कहा कि यह विकास और सुशासन के साथ ही भाजपा के हजारों कार्यकर्ताओं की लगन और परिश्रम का परिणाम है। उम्मीद 90 सीटों पर जीतने की थी, लेकिन हम 80 पर ही जीत सके।

उन्होंने जनप्रतिनिधियों को चेताया भी कि इस जीत में आनंद का अनुभव तो करें, लेकिन अहंकार ना लाएं। पेयजल, यातायात, सड़क चौड़ीकरण आदि पर विशेष ध्यान दें। शहरी क्षेत्र में जो गरीब नारकीय स्थिति में रह रहे हैं, वैसे हर शोषित गरीब का घर बनवाएं।

निकाय चुनाव में विजयी मेयर आशा लकड़ा को सम्मानित करते मुख्यमंत्री एवं इस अवसर पर हरमू मैदान में जुटे भाजपा नेता व कार्यकर्ता।

नगर विकास विभाग हर तरह की मदद को तैयार : सीपी

नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि शहर में रहने वाले लोगों को बुनियादी सुविधाएं मिले इसका ख्याल निकाय चुनाव में विजयी जनप्रतिनिधियों को रखना चाहिए। जनता ने जिस आशा और विश्वास के साथ उन्हें जीत की राह दिखाई है, उस पर उन्हें खरा उतरना चाहिए। उन्होंने विश्वास दिलाया कि विभाग उन्हें हर तरह की मदद करने को तैयार है।

भाजपा में शामिल हुए

आदित्यपुर नगर निगम के 11 पार्षद इस अवसर पर भाजपा में शामिल हो गए। इनमें रीता देवी, नील पद्मा विश्मल, धीरज महतो, अभिजीत महतो, मंजू गोराई, ममता बेन, मंजू देवी, मनोरमा देवी, सुधीर कुमार सिंह, आसीत मांझी व अन्य शामिल हैं। इसके अलावा गिरिडीह के राजू यादव और मिथुन चंद्रवंशी भी भाजपा में शामिल हुए।

भाजपा पर लगाया धोखा देने का आरोप

मिहिजाम की नगर पंचायत उपाध्यक्ष शांति देवी को भी मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित किया गया। इसी क्रम में स्टेज पर यह घोषणा की गई की शांति देवी ने भाजपा की नीति और सिद्धांतों में विश्वास करते हुए भाजपा की सदस्यता ले ली है और कांग्रेस छोड़ दिया है। इसके बाद में प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद एवं शांति देवी ने खुद फोन कर भास्कर को बताया कि उन्हें धोखे में रखकर कार्यक्रम में बुलाया गया। मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित कराने के नाम पर रांची लाया गया और उनकी जानकारी के बिना उन्हें भाजपा में शामिल होने की घोषणा कर दी गई। जबकि वह कांग्रेस की टिकट पर चुनाव जीती हैं, वह कांग्रेसी हैं। कांग्रेसी ही रहेंगी। उन्होंने कहा कि भाजपा ने उन्हें धोखा दिया है।