• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Nala
  • मांगों को ले 8वें दिन भी सहायिका व सेविका रही हड़ताल पर, वार्ता को नहीं पहुंचे अधिकारी
--Advertisement--

मांगों को ले 8वें दिन भी सहायिका व सेविका रही हड़ताल पर, वार्ता को नहीं पहुंचे अधिकारी

आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिकाओं के बेमियादी हड़ताल में जाने से क्षेत्र के नौनिहाल के अलावा किशोरी, गर्भवती एवं...

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 02:40 AM IST
आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिकाओं के बेमियादी हड़ताल में जाने से क्षेत्र के नौनिहाल के अलावा किशोरी, गर्भवती एवं धातृमाता सरकार द्वारा प्रदत्त सुविधा से वंचित है। पिछले आठ दिनों से जारी इस हड़ताल के कारण वैसे छोटे छोटे बच्चों के लिए शिक्षा, ज्ञान, टीकाकरण से दूर होकर खेल और आराम का समय आ गया है। गौरतलब है कि तीन दिन के बाद क्षेत्र में पल्स पोलियो अभियान का आयोजन होगा। लेकिन इस अभियान में शामिल होने के लिए न तो सेविका सहायिका तैयार है और न ही उनकी समस्या के प्रति अबतक सरकार गंभीर है। ऐसे में कई महत्वपूर्ण कार्य प्रभावित होने की संभावना बढ़ने लगी है। इधर निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बुधवार को भी हड़ताली कर्मचारी अपनी मांगों के समर्थन में डंटे रहे। आज प्रखंड विकास सह बाल विकास परियोजना कार्यालय के समक्ष उन्होंने अपना दुख दर्द और सरकार के प्रति रोष प्रकट किया। इस मौके पर सिउली हालदार, सूरजमनि पांवरिया, बुलबुल गण ने कहा कि अल्प मानदेय में लंबे समय से कार्य करने वाले कर्मियों के प्रति सरकार की सौतेली व्यवहार हावी है। हमारी मांगें पूरी होने तक हड़ताल आगे भी जारी रहेगा। संघ के नेता चंडीदास पूरी, सुरेश दास एवं लखनलाल मंडल ने कहा कि संघ के अंदर चट्टानी एकता रहना चाहिए तथा संघर्ष के बिना कुछ भी हासिल नहीं होगा। मौके पर मीरा मंडल, चंदना सिंह, अनिता महतो, मालविका टुडू, मधुमिता मंडल, चायना बाउरी थीं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..