नाला

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Nala
  • समान काम के बदले समान वेतन की मांग पर सेविकाओं का प्रदर्शन
--Advertisement--

समान काम के बदले समान वेतन की मांग पर सेविकाओं का प्रदर्शन

भास्कर न्यूज|बिंदापाथर/फतेहपुर समान काम के बदले समान वेतन की मांग काे लेकर बुधवार काे अांगनबाड़ी सेविकाअाें ने...

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 02:50 AM IST
भास्कर न्यूज|बिंदापाथर/फतेहपुर

समान काम के बदले समान वेतन की मांग काे लेकर बुधवार काे अांगनबाड़ी सेविकाअाें ने एक दिवसीय हड़ताल किया। इस दौरान मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद किया। हड़ताली महिला कर्मियों ने कहा कि सरकार के स्तर से बार-बार कहा जाता है कि महिला और पुरुष को समान अधिकार दिया जाता है। हड़ताल को संबोधित करते हुए नाला विधानसभा क्षेत्र के नेता सह समाज सेवी मनोज कुमार गोस्वामी ने कहा कि सरकार सेविकाओं तथा सहायिका के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। सेविकाओं के पास बीएलओ के काम का अतिरिक्त प्रभार है। इन्हें मानदेय के रूप में 4 हजार रुपया दिया जाता है। जबकि समान काम का समान वेतन मिलना चाहिए। मौके पर हड़ताली सेविकाओं ने कहा कि उन्हें न्यूनतम 18 हजार रुपया प्रतिमाह दिया जाना चाहिए। जबकि सहायिका को 9 हजार रुपया प्रतिमाह और सेवानिवृत्ति लाभ 3 लाख रुपया दिया जाना चाहिए। सेवानिवृति के बाद प्रतिमाह पेंशन 9 हजार रुपया तथा मिनी सेंटर की सेविकाओं को भी इसी तर्ज पर लाभ दिया जाना चाहिए। इसके अलावा जीवन बीमा का लाभ सभी सेविकाओं तथा सहायिका को दिया जाना चाहिए। कहा कि हमलोगों को इतना कम मानदेय मिलता है कि उससे परिवार का भरण-पोषण करने मुश्किल हो रहा है। कई बार मांगों को लेकर आंदोलन किया गया लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। हड़ताल के दौरान सभी कर्मी सरकार के खलाफ नाजेबाजी भी की। प्रदर्शन के अंत में मांगों के संबंधित मांगपत्र अधिकारियों को सौंपा। मौके पर बबीता टुडू, मोनिका भारती, सरिता हेम्ब्रम, साधना दत्त, भाइलेट टुडू, दीप्ति पाल, मुन्नी हांसदा, सुभासीनी मुर्मू, उर्मिला, छायारानी पाल, सरिता मुर्मू, उषारानी मंडल, मणिमाला देवी के साथ प्रखंड के सभी आंगनबाड़ी सेविका उपस्थित थीं।

मांगों के समर्थन में धरना पर बैठी सेविका व सहायिका।

X
Click to listen..