• Home
  • Jharkhand News
  • Nala
  • कृषि तकनीक सीखने 50 किसान जाएंगे भागलपुर
--Advertisement--

कृषि तकनीक सीखने 50 किसान जाएंगे भागलपुर

जिले के किसान को आर्थिक रूप से सबल बनाने के लिए विभाग द्वारा 50 किसानों को उन्नत कृषि तकनीक का प्रशिक्षण दिया जाएगा।...

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 03:10 AM IST
जिले के किसान को आर्थिक रूप से सबल बनाने के लिए विभाग द्वारा 50 किसानों को उन्नत कृषि तकनीक का प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकि प्रशिक्षण प्राप्त कर किसान अपनी आय को दोगुना कर सके।

जिले के 50 प्रगतिशील किसानों को इंटर स्टेट प्रशिक्षण के लिए बिरसा कृषि विश्वविद्यालय भागलपुर ले जाया जाएगा। तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम 24 से 26 फरवरी तक जारी रहेगा। भागलपुर में आयोजित होने वाले उन्नत कृषि टेक्नालॉजी में जिले के किसानों का एक्सपोजर विजिट कराया जाएगा। ताकि किसान उन्नत कृषि तकनीक सिख सकें। इंटर राज्य अंतर्गत तीन दिवसीय एक्सपोजर विजिट में किसानों को कृषि वैज्ञानिकों द्वारा बेहतर कृषि तकनीक की जानकारी दी जाएगी। ताकि किसान उन्नत तकनीक काे सीखकर उसका प्रयोग अपने गांव के खेतों में कर सके।

वैज्ञानिक तरीके से बीज एवं पौधा लगाने के बारिक को सिख कर किसान फसल का उत्पादन बढ़ा सकेंगे। कृषि वैज्ञानिक, एक्सपर्ट द्वारा मौसमी खेती के अलावा, गो पालन, बकरी पालन, मुर्गी पालन, सुकर पालन, मछली पालान सहित अन्य जानकारी दी जाएगी। बीटीएम सुजीत सिंह ने बताया जाता कि अगर किसान वैज्ञानिक तरीके से खेती करे या पशुओं का पालन करे तो अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। बिरसा कृषि विश्वविद्यालय भागलपुर में आयोजित शिविर में फसलों की देखभाल, कीटनाशक से बचाव व उपचार की जानकारी सहित मवेशियों के लिए चारा, टीकाकरण सहित विभिन्न बिंदुओं पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाएगी तथा फिल्ड विजिट कर किसानों को प्रत्यक्ष दिखाया और समझाया जाएगा।

कृषि कार्य में इस्तेमाल होने वाले आधुनिक मशीन, औजार से भी किसानों को अवगत कराया जाएगा। ताकि कम समय एवं परिश्रम में किसान खेती कार्य कर सके और फसल का उत्पादन भी अच्छा हो। तीन दिवसीय इंटर स्टेट एक्सपाेजर विजिट को लेकर जिले के किसानों में काफी उत्साह देखा जा रहा है।

छह प्रखंडों से चुने गए हैं 50 किसान

जिले के सभी छह प्रखंड से प्रगतिशील किसान बस से रवाना होंगे। जिले के सभी छह प्रखंड जामताड़ा, कुंडहित, नारायणपुर, फतेहपुर, करमाटांड़ एवं नाला के प्रगतिशील किसान रवाना होंगे। चयनित होने वालों में बीटीएम सुजीत कुमार सिंह के अलावा किसान विवेकानंद गोराई, अरूप मंडल, दिलीप मरांडी, राम बाबू मरांडी, मनोज सोरेन सहित अन्य का नाम शामिल है। इस संबंध में विभाग द्वारा तैयारी की जा रही है। वहीं नई तकनीक सीखने के बाद किसान जामताड़ा जिले में अच्छी खेती कर सकेंगे।