Hindi News »Jharkhand »Nala» सिंचाई नाला तोड़कर सड़क बनाने से ग्रामीणों में आक्रोश, निर्माण बंद कराया

सिंचाई नाला तोड़कर सड़क बनाने से ग्रामीणों में आक्रोश, निर्माण बंद कराया

अंचल के फुलचुवां गांव में सरकारी सिंचाई नाला तोड़कर सड़क बनाने को लेकर रविवार को ग्रामीणों ने जोरदार विरोध...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 12, 2018, 03:15 AM IST

अंचल के फुलचुवां गांव में सरकारी सिंचाई नाला तोड़कर सड़क बनाने को लेकर रविवार को ग्रामीणों ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया और निर्माण कार्य को बंद करा दिया। ग्रामीणों का कहना था 1932 के सर्वे सेटलमेंट में ही किसानों के जमीन पटवन के लिए तीन हजार फीट का सिंचाई नाला रखा गया है। जिसका जिक्र सर्वे खतियान व नक्शा पर्चा में भी अंकित है। उक्त सिंचाई नाला से फुलचुवां, पुराना खरना व बेहरा मौजा के लगभग 400 एकड़ जमीन की पटवन होती है। नाला का निर्माण वर्ष 1962 में ही तत्कालीन विधायक कामदेव प्रसाद सिंह ने बतौर केनाल कराया था। जिससे जमा पानी उक्त सिंचाई नाला होते हुए सीधे किसानों के खेतों में जाता था। वर्तमान समय में कुछ वर्षों से जोरिया में आई बाढ़ के चलते कई जगह नाला टूट गया है। जिससे सिंचाई नहीं हो रही है। जिसे मरम्मत की मांग की गई थी। इसी बीच जिला परिषद ने 24 लाख की लागत से मुख्य पथ से दलित टोला तक 1600 फीट पीसीसी पथ निर्माण की स्वीकृति दी है।

विभाग को देना होगा जुर्माना : चुन्ना सिंह

ग्रामीणों की शिकायत पर गांव पहुंचे पूर्व विधायक चुन्ना सिंह ने मौके पर से संवेदक को फोन कर पूछा कि सरकारी नाला किसके आदेश से तोड़ा गया। कहा कि विभाग के अभियंता को नाला बनवाना होगा। उन्होंने कहा कि सड़क बनाने के लिए नाला तोड़ने का कोई प्रावधान नहीं है।

क्या कहते हैं सीओ

सीओ धनंजय पाठक ने कहा कि लिखित शिकायत नहीं मिली है। शिकायत मिलने के बाद स्थल पर जाकर जांच की जाएगी। विभागीय अभियंता उदय सिंह ने कहा कि उन्हें नाला तोड़े जाने की जानकारी नहीं है।

सिंचाई नाला तोड़ना गलत : कृषि मंत्री

कृषि मंत्री रंधीर सिंह ने कहा कि सिंचाई नाला तोड़कर विभाग व संवेदक ने गलत किया है। वे गांव जाकर किसानों की समस्या का समाधान करेंगे। उसके बाद ही सड़क निर्माण होगा। विधायक मद स नाला का निर्माण कराया जाएगा।

क्या कहते हैं संवेदक

संवेदक ने कहा कि नियम के विरुद्ध काम नहीं करेंगे। ग्रामीणों के साथ बैठकर नक्शा का मिलान करेंगे। अगर नक्शा में नाला है तो उक्त जगह काम नहीं करेंगे और तोड़े गए नाले की मरम्मत भी कराई जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×