• Hindi News
  • Jharkhand
  • Nala
  • टीबी का इलाज संभव है बशर्ते पूरी दवा लें: सीएस
--Advertisement--

टीबी का इलाज संभव है बशर्ते पूरी दवा लें: सीएस

Nala News - विश्व यक्ष्मा दिवस सप्ताह के तहत स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार को रेडक्रास भवन के सभागार में जागरूकता कार्यक्रम...

Dainik Bhaskar

Mar 27, 2018, 03:15 AM IST
टीबी का इलाज संभव है बशर्ते पूरी दवा लें: सीएस
विश्व यक्ष्मा दिवस सप्ताह के तहत स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार को रेडक्रास भवन के सभागार में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के सभी प्रखंड से विद्यालय के स्कूली बच्चे तथा शिक्षकों ने भाग लिया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि सिविल सर्जन डॉ बीके साहा ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस दौरान यक्ष्मा बीमारी कारण व बचाव विषय पर क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। क्विज प्रतियोगिता में मौखिक राउंड के लिए बच्चे सेलेक्ट किये गए। उसमें प्रथम नतीक्षा घोष, जया माजी, बजेंद्र माजी, दिपेश दां, इरफान अंसारी मध्य विद्यालय नाला, द्वितीय दिव्येन्दु कुमार, राहुल कुमार साव, घनश्याम कुमार पंडित, विशाल मंडल, सुजल कुमार साव जेबीसी प्लस टू हाई स्कूल जामताड़ा एवं तृतीय मानव मंडल, सौरभ विश्वास, विक्रम साधु मो सिद्दीक आरके प्लस टू हाई स्कूल नाला के बच्चों को जिला यक्ष्मा पदाधिकारी डॉ डॉ दिनेश कुमार अखाैरी ने पुरस्कार दिया। क्विज मास्टर आशिष कुमार चौबे थे। मौके पर सिविल सर्जन डॉ बीके साहा ने कहा कि टीबी एक संक्रामक बीमारी है। इसका प्रमुख लक्षण बहुत दिनों से खांसी तथा बुखार का ठीक न होना है। अगर इस तरह के लक्षण किसी व्यक्ति को हो तो इसका नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंच कर जांच करायें तथा डाट्स प्रणाली के तहत अपना इलाज करा कर बीमारी से मुक्ति पायें। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार जागरूकता कार्यक्रम चलाकर लोगों के बीच जागरूकता फैलाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में नि:शुल्क दवा वितरित की जा रही। वहीं जिला यक्ष्मा पदाधिकारी डॉ दिनेश कुमार अखाैरी ने कहा कि टीबी खतरनाक बीमारी है मगर लाइलाज नहीं। राष्ट्रीय यक्ष्मा नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत डाॅट्स चिकित्सा प्रणाली के तहत पूरा कोर्स पक्का इलाज से टीबी मरीज रोग मुक्त हो सकते हैं। उदलबनी उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक एसएम इमाम ने कहा कि बच्चों में इस तरह के कार्यक्रम के माध्यम से टीबी रोग के प्रति जागरूकता आएगी और बीमारी से निजात भी मिलेगी।

बैठक

विश्व यक्ष्मा दिवस सप्ताह के तहत स्वास्थ्य विभाग की ओर से जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन

X
टीबी का इलाज संभव है बशर्ते पूरी दवा लें: सीएस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..